सीबीएसई दसवीं की परीक्षाएं फिर शुरू करेगी सरकार

नई दिल्ली - सरकार सीबीएसई की दसवीं बोर्ड की परीक्षाओं को फिर से शुरू करने की तैयारी में है. देश की सबसे बड़ी परीक्षा कराने वाली संस्था सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (सीबीएसई)) को इस बारे में सूचित किया गया है. मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर 25 अक्टूबर को इसकी आधिकारिक घोषणा करेंगे. दसवीं बोर्ड की परीक्षाएं वर्ष 2018 से शुरू होनी संभावित हैं.

गौरतलब है कि वर्ष2010 में बोर्ड परीक्षाओं को खत्म कर साल भर के आधार पर ग्रेडिंग की सुविधा शुरू की गई थी. इसके पीछे तर्क था कि ग्रेडिंग सिस्टम छात्रों पर दबाव कम करेगा. इन बोर्ड परीक्षाओं की शुरुआत के पीछे राज्य और बच्चों के माता-पिता की ओर से आने वाली प्रतिक्रियाएं थीं. वे कहते हैं कि इन बोर्ड परीक्षाओं के नहीं कराए जाने की वजह से पढ़ाई का स्तर गिरा है.

बता दें कि दसवीं बोर्ड परीक्षाओं के पक्षधर इसे आगे की बोर्ड परीक्षाओं की तैयारी के लिए महत्वपूर्ण मानते हैं.एक बात यह भी है कि छात्रों को न रोकने की नीति ने शिक्षकों के अधिकारों में भी कटौती की है. इस बीच ग्यारहवीं कक्षा में कई विद्यार्थी फेल हुए तो दसवीं बोर्ड परीक्षाओं की मांग और भी तेजी से उठने लगी. मानव संसाधन मंत्रालय अपने इस कदम को श‍िक्षा के क्षेत्र में दिवाली का उपहार बता रहा है.

हालाँकि इसमें एक पेंच यह भी है कि दसवीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाओं की फिर से बहाली में विधायिका का दखल नहीं चाहिए, तो फेल होने पर छात्रों को रोक लेने की प्रक्रिया लागू करने के लिए शिक्षा का अधिकार अधिनियम कि धारा 16 में बदलाव करना जरुरी हो जाएगा.

CBSE: 12वीं बोर्ड परीक्षा परिणाम के बाद Revaluation प्रक्रिया होगी खत्म

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -