CBI ने दर्ज किया इंदौर की कंपनी के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला

इंदौर: इंदौर में इन दिनों अपराध के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। यहाँ हाल ही में केंद्रीय जांच ब्यूरो ने निजी कंपनी के दो निदेशकों के खिलाफ करीब 30 करोड़ रुपये की बैंक धोखाधड़ी के मामले में तलाशी ली मामला दर्ज किया। मिली जानकारी के तहत सीबीआई ने भोपाल इंदौर में आरोपियों के परिसरों की तलाशी ली, जिसमें आपत्तिजनक दस्तावेज बरामद हुए। CBI का कहना है उन्होंने बैंक ऑफ बड़ौदा, इंदौर की शिकायत पर इंदौर स्थित उक्त निजी कंपनी अज्ञात लोक सेवकों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

इसी के साथ उन्होंने यह भी आरोप लगाया गया कि, 'कर्ज लेने वाली कंपनी ने 2014 से 2017 की अवधि के दौरान अपने निदेशकों अज्ञात लोक सेवकों के साथ साजिश में धोखाधड़ी की बैंक ऑफ बड़ौदा से 29।41 करोड़ रुपये (लगभग) की धोखाधड़ी की।' वहीं आगे यह भी आरोप लगाया गया, 'उक्त निजी कंपनी ने आईडीबीआई बैंक द्वारा दिये गये ऋण सुविधाओं को लेने के बाद 13 सितंबर, 2014 को बैंक ऑफ बड़ौदा द्वारा 36 करोड़ रुपये के कार्यशील पूंजी लोन ट्रम लोन को आगे बढ़ा दिया था।'

मिली जानकारी के तहत उक्त ऋण खाता 2 मई, 2017 को एनपीए बन गया और बाद में आरबीआई को धोखाधड़ी के रूप में रिपोर्ट किया गया। वहीं बकाया ऋण राशि 29।41 करोड़ रुपये था। इसी के साथ यह भी आरोप लगाया गया कि फोरेंसिक अकाउंटिंग से कंपनी द्वारा धन की हेराफेरी फंड के डायवर्जन का खुलासा हुआ था।

महाकाल के रंग में रंगे दिखे अक्षय कुमार, सामने आया OMG 2 का पहला पोस्टर

अपनी इस फिल्म की शूटिंग के लिए इंदौर आए अक्षय कुमार

13 साल छोटे रिक्शेवाले संग भागी 45 साल की महिला, ससुराल से ले गई लाखो रुपए

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -