चंडीगढ़ रिश्वत कांड में सीबीआई ने आरोपियों को जेल भेजा

चंडीगड़: चंडीगड़ में रिश्वत लेते रंगेहाथ पकड़े गए एसआई की कार से अब 80 लाख रुपये की एक प्रापर्टी के दस्तावेज भी सीबीआई को मिले हैं. बता दें कि सीबीआई इसकी जांच करवा रही है, साथ ही उसके बैंक खाते संबंधी जानकारी भी जुटा रही है.जानकारी के मुताबिक वहीं कांस्टेबल सुमित के यहां से सीबीआई को कुछ खास हासिल नहीं हुआ है. सीबीआई द्वारा आरोपियों को ड्यूटी मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश कर न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है.

मामला यह था कि इंडस्ट्रियल एरिया स्थित कालोनी नंबर-4 निवासी मुन्ना कुमार सिंह ने सीबीआई को दी शिकायत में आरोप लगाया था कि एसआई 12 मई को उसके ऑफिस आया था और उस पर छह मई को कालोनी नंबर4 के लाइट प्वाइंट के समीप लगे नाके से बिना हेलमेट जाने पर रोकने के बावजूद न रुकने और नाका तोड़ने का आरोप लगाया. बाद में एसआई ने बाइक इम्पाउंड न करने और उसे गिरफ्तार न करने की एवज में उससे पांच हजार रुपये रिश्वत मांगी

बात दें कि सीबीआई ने आरोपियों के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम, 1988 की धारा 7 और आईपीसी की धारा 120बी के तहत केस दर्ज किया है. बता दें कि सोमवार शाम सीबीआई ने ट्रैप लगाकर एसआई सेवा सिंह, कांस्टेबल सुमित और बिचौलिए अजय कुमार को पांच हजार रुपये रिश्वत लेने के आरोप के चलते गिरफ्तार किया था. 

फांसी लगाते हुए छात्र ने बनाई वीडियो

नाबालिग बच्ची से किया सामूहिक बलात्कार

इंदौर: 19 मई को ''वंशीवट लय'' का आयोजन, नए कवियों के लिए सुनहरा मौका

 

Most Popular

- Sponsored Advert -