तो इसलिए बिल्ली का रास्ता काटना होता है अशुभ, नुकसान से बचने के लिए करे ये उपाय

Nov 10 2018 11:47 AM
तो इसलिए बिल्ली का रास्ता काटना होता है अशुभ, नुकसान से बचने के लिए करे ये उपाय

हमारे देश में मान्यताओं और परंपरा के नाम पर इतने सारे हैरान कर देने वाले अन्धविश्वास है जिसे ना चाहते हुए भी निभाना पड़ता है. ऐसी कई मान्यताएं हैं जिन पर लोग आँख बंद करके विश्वास करते हैं. इन्ही में से एक मान्यता है बिल्ली का रास्ता काटना. जब भी हमारे सामने से बिल्ली रास्ता काटकर निकल जाती है तो लोग कुछ देर के लिए वही रुक जाता है. ऐजाता है. जब भी हमारे देश में सामने से बिल्ली रास्ता काटकर निकल जाती है तो इसे अपशगुन माना जाता है. बिल्ली के रास्ता काटने के बाद तब तक लोग रुकते है जब तक कोई और व्यक्ति उस रास्ते को पार करके ना निकल जाए.

भारत में तो बिल्ली के रास्ता काटने का इतना भय है कि कभी-कबार तो व्यक्ति अपना रास्ता बदलकर किसी और रास्ते पर निकल जाता है. लेकिन ये बात किसी को नहीं पता होगी कि आख़िरकार बिल्ली रास्ता काटने से होता क्या है. आपकी जानकारी के लिए बता दें हमारे धर्म में बिल्ली को एक मांसभक्षी, जंगली और अशुभ जानवर माना जाता है. बिल्ली का रास्ता काटना, बिल्ली का दिखना, उसका रोना और घर में आना-जाना सब कुछ ही अशुभ माना जाता है. बिल्ली को पालना भी अशुभ माना जाता है. ये भी कहा जाता है कि जब भी बिल्ली को घर में रखते है तो कहते है कि कुछ ना कुछ बुरा तो जरूर होगा. सिर्फ हमारे देश में ही नहीं बल्कि विदेशो में भी बिल्ली के रास्ते काटने को अशुभ माना जाता है. विदेशो में तो बाई से दाई और बिल्ली के रास्ता काटने को अशुभ मानते है.

सुनने में आया है कि बिल्ली चुड़ैलों की सहायक होती है. यदि बिल्ली रास्ता काट लेती है तो उससे बचने के लिए आप हनुमान जी के दर्शन कर अपने काम के लिए जा सकते है. साथ ही आप अगर सूर्य देवता को भी प्रणाम कर निकल जाएंगे तो ये आपके लिए अशुभ साबित नहीं होगा. इससे आपके सारे दोष खत्म हो जाएंगे. इसके साथ ही ये भी कहा जाता है कि बिल्ली राहु की सवारी है. तो इससे बचने के लिए आप रां राहवे नम: मंत्र बोलकर भी अपने दोष खत्म कर सकते है.

दोस्त के प्राइवेट पार्ट में प्रेशर पंप लगाकर भर दी हवा, फिर हुआ कुछ ऐसा...

अपने दोस्तों को बचाने के लिए विशालकाय मगरमच्छ से भीड़ गई नन्ही-सी बच्ची

चीन के न्यूज़ चैनल पर दिखेगा कुछ ऐसा जिसपर यकीन नहीं कर पाएंगे आप

?