पांच साल की मासूम बच्ची से कंडक्टर करता था छेड़छाड़

Sep 16 2015 02:16 PM
पांच साल की मासूम बच्ची से कंडक्टर करता था छेड़छाड़

चंडीगढ़. भारत में बच्चो के साथ छेड़छाड़ के मामले बहुत ही तेजी से बड़ रहे है. ऐसे ही एक मामले के तहत चंडीगढ़ में एक बच्ची के साथ स्कुल बस का कंडक्टर ही बस में बच्ची के साथ छेड़छाड़ करता था. ज्ञात हो की चंडीगढ़ के स्टेपिंग स्टोन्स स्कूल सेक्टर-38 की बस में बच्ची से कंडक्टर ही छेड़छाड़ करता था। इस साल मई में इस केस के खुलासे के बाद पूरा प्रशासन सकते में आ गया था सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक सोमवार को चंडीगढ़ की एडीजे अंशु शुक्ला की कोर्ट में बंद कमरे में इस पांच साल की बच्ची के बयान दर्ज हुए तथा ऐसे समय में इस छोटी सी बच्ची को न कोर्ट की समझ थी न ही जज के बारे में कोई जानकारी तथा अदालत भी पसोपेश में था की आखिरकार इस पांच साल की बच्ची से इस मामले में कोई सवाल पूछें भी तो कैसे इस दौरान कोर्ट की जज जो की एक महिला थी जिनका नाम अंशु शुक्ला था उसने स्थिति को भांपकर सबसे पहले इस बच्ची को प्यार से पहले गले लगाया व फिर अपनी गोद में बैठाया व ऐसे में बच्ची को लगा की कोई अपना सा है. 

इस दौरान जज अंशु शुक्ला ने बच्ची से धीरे धीरे बातचीत शुरू की व बच्ची से बातो ही बातो में उन अनसुलझे सवालो के जवाब भी जान लिए जो की काफी महत्वपूर्ण थे. इस पांच साल की बच्ची ने जज को कंडक्टर अंकल की सारी बातें बता दीं व जब जज अंशु शुक्ला ने बच्ची से उसके सामने खड़े हुए आरोपी कंडक्टर जगजीत सिंह की ओर इशारा करके पूछा कि क्या यही वह अंकल हैं, तो बच्ची ने तपाक से कहा- हां, यही वो अंकल हैं. व इस दौरान इस बच्ची ने यह भी जानकारी दी की कंडक्टर ने यह बात किसी ओर से न बताने की धमकी भी दी थी. व चंडीगढ़ में इस घटना के बाद ही वहां पर स्कूली बसों में सेफ्टी नॉर्म्स लागू करने के अंतर्गत एक गाइड लाइन्स शुरू की गई थी.