रमन सिंह की मुश्किलें बढ़ीं, दामाद पर दर्ज हुआ 50 करोड़ के घोटाले का मामला

रमन सिंह की मुश्किलें बढ़ीं, दामाद पर दर्ज हुआ 50 करोड़ के घोटाले का मामला

रायपुर: छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम रमन सिंह के दामाद के विरुद्ध 50 करोड़ रुपये की कथित वित्तीय अनियमितता के सिलसिले में मामला दर्ज हो चुका है। यह मामला डीके के अधीक्षक डॉ केके सहारे की तहरीर पर गोल बाजार थाने में दर्ज किया गया है। पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह के दामाद गुप्ता के विरुद्ध कई धाराओं के तहत लोकसेवक होते हुए आपराधिक षड्यंत्र, धोखाधड़ी, चारसौ बीसी, जालसाजी, फर्जी कागज़ात से हेराफेरी करने के आरोप लगे हैं। अंतागढ़ टेप कांड में भी पंडरी थाने में डॉ. गुप्ता के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज है।

मिशन लोकसभा: क्या भाजपा के पास प. बंगाल में नहीं है योग्य उम्मीदवार ?

इस मामले की जानकारी देते हुए पुलिस ने बताया है कि रमन सिंह के दामाद पुनीत गुप्ता पर आरोप है कि सरकारी डीकेएस अस्पताल के अधीक्षक पद पर कार्यरत हुए उन्होंने 50 करोड़ रुपये का कथित घोटाला किया है। न्यूज़ एजेंसी पीटीआई के अनुसार, रायपुर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल ठाकुर ने जानकारी देते हुए बताया है कि डीकेएस अस्पताल के अधीक्षक कमल किशोर सहारे की तहरीर के आधार पर गुप्ता के खिलाफ ठगी और धोखाधड़ी का केस दर्ज किया गया है।

अपनी नाकामियों को बचाने के लिए जनता का ध्यान भटका रही भाजपा- मायावती

शिकायत में सहारे ने आरोप लगाया है कि अपने कार्यकाल के समय गुप्ता ने 50 करोड़ रुपये का कथित घोटाला किया है। शिकायत के मुताबिक, डॉ गुप्ता ने 14 दिसंबर 2015 से 2 अक्टूबर 2018 के बीच अस्पताल में घोटाला किया है। उन्होंने नियम के खिलाफ डॉक्टरों व अन्य स्टाफ की भर्ती की। वहीं, अयोग्य लोगों से पैसे लेकर उन्हें नौकरी दी। शिकायत में कहा गया है कि पूर्व अधीक्षक ने अपने पद और पहुंच का दुरूपयोग करते हुए सरकारी पैसे का गलत इस्तेमाल किया। इससे सरकारी खजाने को नुकसान पहुंची है। कई ऐसी मशीनें खरीदी गई हैं, जिससे मरीजों से सीधा कोई लेन-देन नहीं है।

खबरें और भी:- 

अनिल अम्बानी पर मंडराया जेल जाने का खतरा, ये है उसकी वजह

लोकसभा चुनाव: कांग्रेस का हाथ थाम सकती हैं आप की नाराज़ विधायक अलका लांबा

जो भारत के विकास के लिए कड़ी मेहनत कर रहा है, वह चौकीदार है : पीएम मोदी