लकड़ी का काम कर बुजुर्ग ने कमाए 20 करोड़ रु, संवार दिया दर्जनों बच्चों का भविष्य