अब सरकारी योजनाएँ भी दिलाएंगी लाखो लोगो को रोजगार

Jan 30 2016 11:29 AM
अब सरकारी योजनाएँ भी दिलाएंगी लाखो लोगो को रोजगार

सरकार द्वारा लागू की गयी मेक इन इंडिया और स्मार्ट सिटी जैसी योजनाएं काफी महत्वाकांक्षी योजनाएँ हैं. यह योजनाएँ देश हित के लिए तो बेहद ज़रूरी हैं ही पर यह योजनाएँ रोजगार की दृष्टि से भी बेहद महत्वपूर्ण हैं क्योकि जैसे ही इन योजनाओ का क्रियान्वयन शुरू होगा इससे रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे. रिक्रूटमेंट और जॉब कंसल्टेंसी फर्मों के अनुसार इन योजनाओ से आने साल 2017 में 5 लाख से भी अधिक नौकरियों के अवसर पैदा होंगे.

इसके साथ ही मैनपावर ग्रुप इंडिया, केली सर्विसेज और टीमलीज सर्विसेज जैसी फर्मों को रेल व मेट्रो ट्रांसपोर्ट, कंस्ट्रक्शन, एनर्जी, पोर्ट्स और अन्‍य इन्फ्रास्ट्रक्चर सेक्टर्स में कर्मचारियों की मांग में चार गुना की बढ़त हो सकती हैं.इसके अलावा इन कम्पनियो का यह भी मानना हैं कि जॉब सेक्टर में आ रहे बदलाओ से और लीडरशिप रोल पर सैलरी एक करोड़ रुपए से भी अधिक पहुंचने कि भी उम्मीद हैं.

आने वाले साल में टॉप और मिडल लेवल कि नौकरियों कि सैलरी में करीबन 30 फीसद तक की बढ़त भी हो सकती हैं. इंडियन स्टाफिंग फेडरेशन एंड टीमलीज में सीनियर वाइस प्रेसिडेंट ऋतुपर्णा चक्रवर्ती के अनुसार वर्ष 2020 तक नए प्रोजेक्ट्स में करीबन 16 लाख नई नौकरियों के आने कि उम्मीद जताई जा रही हैं. जबकि 2016-17 तक के जो भी नए प्रोजेक्ट्स होंगे उनमे 5 लाख नई रिक्तियों भी जारी होंगी.

इन सबके अलावा स्नाइडर इलेक्ट्रिक इंडिया पावर, ऑयल एंड गैस, रिन्यूएबल एनर्जी, इंडस्ट्री ऑटोमेशन, बिल्डिंग, रेसिडेंशियल और एनर्जी जैसे सेक्टर्स में प्रोजेक्ट मैनेजर्स कि हायरिंग कि जा रही हैं. इसके साथ ही यह भी तय हैं कि मेक इन इंडिया प्लान के तहत भी प्रोजेक्ट मैनेजर्स के पदो के लिए नियुक्तिया कि जाएगी.