क्या आप भी एग्रीकल्चर में बनाना चाहते हैं अपना करियर? तो इन विकल्पों पर करें विचार

यदि आप कृषि के क्षेत्र में करियर बनाना चाहते हैं मगर नहीं जानते कि इसके लिए कौन सी पढ़ाई करनी है, तो हम आपको कुछ टॉप करियर विकल्प बताने वाले हैं। आप इनसे जुड़े कोर्स कर सकते हैं।

कृषि इंजीनियर- 
कृषि इंजीनियर का काम कंप्यूटर एडेड टेक्नोलॉजी (सीएडी) का उपयोग करके नए उपकरण तथा षड्यंत्रों को डिजाइन करना होता है। जिससे मौजूदा कृषि के तरीकों में सुधार किया जाता है। इंजीनियर का काम एग्रीकल्चरल कंस्ट्रक्शन प्रोजेक्ट की देखभाल करना भी होता है। इसके लिए गणित, विज्ञान की समझ होने के साथ-साथ दिक्कतों के समाधान का कौशल होना चाहिए।

कृषि अर्थशास्त्री-
इनका काम सूक्ष्म आर्थिक तथा व्यापक आर्थिक अवधारणाओं को निर्धारित करके आर्थिक फैसलों को समझना होता है। जैसे कि व्यक्ति खरीदारी करते वक़्त क्या निर्णय लेते हैं या फिर सरकार किस प्रकार अन्नदाताओं की सहायता करती है। ये इसके लिए डाटा का विश्लेषण करते हैं। कृषि अर्थशास्त्री खेतों में जमीन का सर्वेक्षण करने, अन्नदाताओं से बातचीत करने तथा अनुसंधान करने में भी अपना वक़्त गुजारते हैं। इस क्षेत्र में करियर बनाने के लिए अर्थशास्त्र की डिग्री लेनी होती है। साथ-साथ गणित विषय पर भी मजबूत पकड़ होनी चाहिए।

सॉइल एंड प्लांट वैज्ञानिक- 
इनका काम मिट्टी की संरचना का जांच करना होता है कि वह किसी वृक्ष की वृद्धि को किस प्रकार प्रभावित करेगी। ये डाटा को विसतृत रिपोर्ट में प्रस्तुत करते हैं, जिसके माध्यम से अन्नदाताओं को सलाह दी जाती है कि वह किस प्रकार अपनी जमीन का बेहतरी से उपयोग कर सकते हैं। साथ ही सबसे उपयुक्त फसलों की खबर दी जाती है। सॉइल एवं प्लांट वैज्ञानिक शोध करने का काम प्रयोगशालाओं में करते हैं। इसके साथ-साथ ये खेतों से सैंपल भी एकत्रित करते हैं।

नेपाल के कार्यवाहक प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने अपने पद से दिया इस्तीफा

पीएम मोदी ने मुख्यमंत्रियों के साथ बातचीत की, प्रोटोकॉल का पालन करने के महत्व पर दिया जोर

यशपाल शर्मा को याद कर रो पड़े कपिल देव, कीर्ति आज़ाद बोले- हमारा परिवार टूट गया

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -