Kairana Bypoll; सेना की सुरक्षा के बीच कैराना उपचुनाव

2019 लोकसभा से पहले चुनावों का फाइनल माना जाने वाला कैराना उपचुनाव में बीजेपी और महागठबंधन में अपनी पूरी तैयारी कर ली है वहीं इसके साथ ही चुनाव आयोग ने इस चुनाव को निष्पक्ष बनाने के लिए अद्धसैनिक बलों की 25 कंपनियों को तैनात करने का निर्णय लिया है जो चुनाव में सुरक्षा का जिम्मा संभालेंगे. 

बता दें, उत्तर प्रदेश की कैराना लोकसभा सीट पर बीजेपी के सांसद हुकुम सिंह के देहांत के बाद यहाँ पर उपचुनाव होना है जो इस महीने की 28 तारीख को वहीं इस चुनाव का परिणाम 3 जून को जारी किया जाएगा.  इस चुनाव में एक ओर जहाँ बीजेपी की उम्मीदवार हुकुम सिंह की बेटी मृगांका सिंह है वहीं विपक्ष की तरह से यहाँ पर एक ही चेहरा है जिसको कांग्रेस बसपा ओर सपा का समर्थन है. तबस्सुम हसन आरएलडी की उम्मीदवार इनके सामने मजबूत उम्मीदवार सिर्फ बीजेपी की मृगांका सिंह ही है. 

हाल ही में कर्नाटक में हुए सियासी ड्रामे के ठन्डे होने के बाद आज-कल में कैराना उपचुनाव भी चर्चा में, किसानों के लिए गन्ने का मुद्दा वहीं हिन्दुओं के पलायन का मुद्दा यहाँ पर मुख्य है. इस चुनाव में मुख्य पार्टी जो बीजेपी के सामने है वो सिर्फ आरएलडी है जो जिसको इस चुनाव के साथ अपने आस्तित्व को बचने की चुनौती भी है. अब देखने वाली यह होगी कि 3 जून को आने वाली इस चुनाव के परिणामों में कौन सी पार्टी बाजी मारेगी. 

Kairana Bypoll: रोमांचक मुकाबले में आज योगी

RLD का राहुल गाँधी पर बड़ा बयान

Kairana Bypoll: इन मुद्दों पर कैराना में चल रहा है सियासी मुकाबला

झुँझलाती धूप में कैराना उपचुनाव बना बीजेपी और विपक्ष की लाज

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -