पंजाब चुनाव में भाजपा-कैप्टन एकसाथ, कृषि कानून वापस होते ही अमरिंदर ने किया ऐलान

अमृतसर: तीन कृषि कानून निरस्त करने के पीएम नरेंद्र मोदी के ऐलान पर पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने खुशी जाहिर की है। उन्होंने कहा कि वे भाजपा के साथ सीट शेयरिंग करके विधानसभा चुनाव लड़ेंगे। कैप्टन अमरिंदर ने पहले ही कहा था कि जैसे ही कृषि कानून निरस्त होंगे और किसान आंदोलन समाप्त होगा, तो वे भाजपा के साथ मिलकर चुनावी ताल ठोकेंगे। अब यह बात पक्की भी हो गई है कि राज्य में साढ़े तीन महीने बाद होने वाले चुनाव में कैप्टन और भाजपा एक साथ होंगे।

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने खुशी जताते हुए कहा कि पीएम मोदी ने किसानों की बात सुनकर उनकी चिंता समझी और कृषि कानून रद्द करने का ऐलान कर दिया। अमरिंदर ने कहा कि, 'मैं निरंतर इस मुद्दे को उठाता रहा और केंद्र सरकार से मिलता रहा।' पीएम मोदी के ऐलान के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि, 'पंजाब में आज हमारे लिए यह काफी बड़ा दिन है। मैं इस मुद्दे को एक साल से अधिक समय से उठा रहा था। इसको लेकर मैंने पीएम मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से भी मुलाकात की। उनसे अपील करता रहा कि वे अन्नदाता की आवाज सुनें। बहुत खुशी है कि उन्होंने कृषकों की बात सुनी और हमारी चिंताओं को समझा।'

अमरिंदर ने आगे कहा कि यह केवल किसानों के लिए बड़ी राहत नहीं है, बल्कि पंजाब की उन्नति के लिए भी रास्ता खुला है। उन्होंने कहा कि अब वे भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार के साथ किसानों के विकास के लिए कार्य करेंगे। उन्होंने पंजाब के किसानों से वादा किया कि वे तब तक आराम नहीं करेंगे, जब तक पंजाब के प्रत्येक शख्स की आंखों के आंसू न पोंछ दें।

कृषि कानून वापस होते ही 'धारा 370' हटाने के लिए उठने लगी मांग, क्या फिर होगा आंदोलन ?

'चुनाव में हार दिखने लगी, तब सच्चाई समझ में आई..', कानून वापसी को लेकर PM पर प्रियंका का तंज

'अब किसान उठें और घर जाकर अपने काम में लगें..', PM मोदी के ऐलान के बाद इस नेता ने की अपील

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -