केरल के मुख्यमंत्री ने किया पलटवार, फिर कही ये बात

केरल के मुख्यमंत्री ने किया पलटवार, फिर कही ये बात

केरल में राजनीतिक उठापटक। हाल ही में केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने मंगलवार को भाजपा के राज्य प्रमुख के सुरेंद्रन पर जीवन मिशन (आजीविका समावेशन और वित्तीय सशक्तिकरण) परियोजना में पूर्व के परिवार के खिलाफ ' निराधार आरोपों ' का समर्थन करने के लिए संकट से बाहर कर दिया । वह ' रिश्वत ' मामले के बारे में बोल रहे थे । विजयन ने कहा कि सुरेंद्रन बिना किसी आधार और बिना किसी शालीनता के आरोप उठाते रहे हैं। सीएम ने पूछा, क्या बुनियादी शालीनता की भावना नहीं होनी चाहिए? क्या उन्हें यह नहीं कहना चाहिए कि उनके बयान किस आधार पर हैं? एक सिर्फ एक तरंग पर बयान जारी करना चाहिए? "

सोमवार को एक प्रेस मीट में सुरेंद्रन ने दावा किया कि जांच एजेंसियों को विजयन की बेटी की जांच करनी चाहिए और उससे सवाल करना चाहिए और कहा कि उनके परिवार के सदस्य कथित तौर पर लाइफ मिशन प्रोजेक्ट में रिश्वत हासिल करने में शामिल थे । इस पर सीएम ने पूछा, पिनाराई विजयन सुरेंद्रन की तरह नहीं हैं। मैं भ्रष्टाचार का विरोध करने के लिए इस्तेमाल कर रहा हूं । उस आदत ने मुझे अपने सिर को ऊंचा रखने में मदद की है जब भी मेरे खिलाफ आरोप हैं । जब कोई देखता है कि मैं बिना भ्रष्टाचार के शासन करता हूं तो ऐसे आरोप उठेंगे। क्या मेरी बेटी या बेटे या परिवार को शुद्ध आरोपों के कारण भ्रष्ट लेबल किया जा सकता है? "

राज्य में बेघर गरीबों के लिए मुफ्त घरों के निर्माण के लिए राज्य सरकार द्वारा जीवन मिशन परियोजना की कल्पना की गई थी और इस परियोजना के तहत राज्य में बेघर लोगों को अब तक कम से 2.26 लाख घरों का निर्माण किया गया था और प्रदान किया गया था । सुरेंद्रन ने आरोप लगाया है कि राज्य सचिवालय में आग लगने की घटना को स्वर्ण तस्करी मामले में मुख्यमंत्री कार्यालय के खिलाफ निशान हटाने के लिए तैयार किया गया था।

केरल अभिनेता के केस में हुआ बड़ा खुलासा, सामने आई ये बात

राज्यसभा की कार्यवाही हुई स्थगित, कल इस समय होगी शुरू

अब दिल्ली के ये भाजपा अध्यक्ष हुए कोरोना संक्रमित, ट्वीट कर दी जानकारी