'क्या लालू कह सकते हैं कि वह PFI के सदस्य हैं?' गिरिराज ने का आया बड़ा बयान

पटना: केंद्र सरकार द्वारा PFI पर 5 वर्ष की पाबंदी लगाए जाने के पश्चात् से राजनीति तेज हो गई है। विपक्ष के कई नेता PFI के प्रतिबंध के पश्चात् RSS पर पाबंदी लगाने की मांग कर रहे हैं। इसी क्रम में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने भी प्रतिक्रिया देते हुए RSS को PFI से भी बदतर बताया तथा इसपर पाबंदी लगाने की मांग की। किन्तु लालू के बयान के बाद बीजेपी भी हमलावर हो गई। 

बीजेपी नेता गिरिराज सिंह ने लालू को करारा जवाब दिया है। गिरिराज सिंह ने ट्वीट कर लालू से कई सवाल दाग दिए। उन्होंने लिखा कि हमें RSS का स्वयंसेवक होने पर गर्व है, क्या लालू यादव कह सकते हैं कि वह PFI के सदस्य हैं? बिहार में उनकी सरकार है, हिम्मत है तो बिहार में RSS को बैन कर दो। RJD प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने कहा कि RSS एवं PFI दोनों को प्रतिबंधित किया जाना चाहिए था। RSS भी हिंदू चरमपंथ को बढ़ावा देता है। उन्होंने मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि देश में बेरोजगारी एवं महंगाई से हालात बद से बदतर हो गए हैं। देश में हिंदू-मुस्लिम करके कट्टरता फैलान का प्रयास किया जा रहा है। ऐसी सरकार को उखाड़ फेंकना है। 

वही मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बुधवार को कहा कि RSS एवं PFI के बीच तुलना सिर्फ राजनीति से प्रेरित है। क्या दिग्विजय सिंह कह सकते हैं कि वह PFI सदस्य हैं? मगर मैं गर्व से कह सकता हूं कि मैं RSS कार्यकर्ता हूं। यह कोई नहीं कह सकता। आप उस पार्टी से क्या उम्मीद करेंगे जो जाकिर नाइक को 'शांतिगुरु' बोलती है तथा 'टुकड़े-टुकड़े' गैंग का समर्थन करती है। 

गहलोत की सारी 'जादूगरी' निकली, सोनिया से मिलकर बोले- सॉरी, नहीं लडूंगा चुनाव

'मुस्कुराइए, आप रोजगार वाली सरकार में हैं', ख़बरों में छाया नीतीश-तेजस्वी का ये पोस्टर

'अशोक गहलोत पर से उठ चुका है मैडम सोनिया का भरोसा..', गुजरात के पूर्व सीएम का बयान

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -