अब सऊदी अरब में हज के दौरान नहीं दी जाएगी ऊंट की कुर्बानी

अब सऊदी अरब में हज के दौरान नहीं दी जाएगी ऊंट की कुर्बानी

रियाद : सऊदी अरब के स्वास्थ्य मंत्रालय ने घातक मिडिल ईस्ट रेसिपेरेट्री सिंड्रोम (मर्स) के खतरे की वजह से ऊंट की बली पर लगी रोक हज के दौरान भी जारी रखने का फैसला किया है. स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता फैसल अल-जहरानी ने कहा कि 'ईद-उल-अजहा के दौरान पूरे देश में यह रोक लागू रहेगी. उन्होंने कहा मुख्य मुफ्ती शेख अब्दुल अजीज अल-अशेख ने हजयात्रियों की सेहत को देखते हुए ऊंट की कुर्बानी पर रोक का आदेश जारी किया है.

क्या है मर्स? 

ऊंटों को मर्स वायरस का संवाहक पाया गया है. जून 2012 से अब तक देश में 1225 लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं. जिनमें से 521 लोगों को तो अपनी जान भी गवानी पड़ी थी और 71 लोगों का अभी भी इलाज चल रहा है. पिछले 4 दिनों में बीमारी के 16 नए मामले सामने आए हैं.