इस माह के अंत में दक्षिण अफ्रीका के कई हिस्सों में कम हो सकता है कोरोना का खतरा

जोहानसबर्ग: एक तरफ दुनियाभर में बढ़ता जा रहा कोरोना महामारी का प्रकोप, और दूसरी तरफ अपनी जान गवा रहे लोगों की संख्या में हर दिन तीव्रता से बढ़ोतरी होती जा रही  है. इतना ही नहीं अब तो कोरोना वायरस ने एक महामारी का रूप भी ले लिया है जिसके बाद से लोगों के घरों में खाने की किल्लत बढ़ती ही जा रही है न जाने इस वायरस के कारण और ऐसी कितनी मासूम जिंदगियां है जो तबाही के कगार पर आ चुकी है. वहीं अब तक दुनियाभर में मौत का आंकड़ा 2 लाख 98 हजार के पार हो चुका है और अभी भी इस वायरस का कोई तोड़ नहीं मिल पाया है.

दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा ने कहा कि मई के अंत तक देश के अधिकांश हिस्सों में कोरोना वायरस के खतरे को कम किया जा सकता है. दक्षिण अफ्रीका में अब तक कोरोना वायरस  (COVID-19) से अब तक 219  मौते हो चुकी हैं और 11,000 से अधिक पुष्ट संक्रमणों को दर्ज किया गया है. वर्तमान में वैश्विक महामारी से निपटने के लिए देश में पांच स्तरीय लॉकडाउन की रणनीति तैयार की है. फिलहाल, लॉकडाउन अपने चौथे चरण में है. रामफोसा ने बुधवार को कहा कि यदि हम लॉकडाउन को बहुत जल्दी और बहुत जल्दी उठाते हैं, तो हम संक्रमण में तेजी से और असहनीय वृद्धि का जोखिम उठाते हैं. हम इसलिए सावधानी से आगे बढ़ना जारी रखेंगे.

उन्होंने आगे कहा कि संक्रमण ज्यादातर कुछ महानगरीय नगर पालिकाओं और जिलों में केंद्रित था. यह महत्वपूर्ण है कि हम इन क्षेत्रों में कड़े प्रतिबंधों को बनाए रखें और इन भागों से कम संक्रमण दर वाले क्षेत्रों में यात्रा को प्रतिबंधित करें.  हम तुरंत मई के अंत तक देश के अधिकांश हिस्सों को अलर्ट स्तर -3 पर रखने के प्रस्ताव पर संबंधित हितधारकों के साथ परामर्श की प्रक्रिया शुरू करेंगे, लेकिन संक्रमण के उच्चतम दर वाले देश के कुछ हिस्से स्तर -4 पर बने हुए हैं. हम परामर्श पूरा होने के बाद आगे की घोषणा करेंगे. उन्होंने कहा कि स्तर -4 लॉकडाउन में बहुत कम व्यवसायों को खोलने की अनुमति है. दक्षिण अफ्रीका ने कुल बंद के साथ कोरोनोवायरस लॉकडाउन की शुरुआत की, अर्थव्यवस्था को तनाव में रखा, नौकरियों और भोजन पर रोक लगाई. बुधवार को, रामफौसा ने कहा कि खुदरा और ई-कॉमर्स में व्यापार की सीमा का विस्तार करने के लिए आने वाले दिनों में स्तर -4 के नियमों में बदलाव होंगे. जीवनशैली प्रतिबंधों को भी कम किया जाएगा. जानकाारी के लिए बता दें कि इस वक्त कोरोना वायरस से दुनियाभर के करीब 41 लाख लोग संक्रमित हैं. 

हिन्दू लड़की का अपहरण, फिर जबरन इस्लाम में धर्म परिवर्तन, Video Viral

जानिए तब क्या हुआ जब मैच में विंडीज ने बना दिया था विश्‍व रिकॉर्ड

कैलिफोर्निया के विशेष चुनाव में रिपब्लिकन करेगा नेतृत्व

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -