सिंहस्थ में चली गोलियां, चार साधु घायल

उज्जैन : आमतौर पर आपने चुनावी प्रक्रिया में बाहुबलियों द्वारा एक दूसरे के साथ संघर्ष करने, विभिन्न दलों द्वारा तरह तरह के हथकंडे अपनाकर धन बल और बाहुबल का उपयोग करने की बात सुनी होगी लेकिन क्या आपने सुना है कि साधु चुनाव के लिए झगड़ लिए हों। जी हां, सिंहस्थ 2016 में ऐसा ही नज़ारा देखने को मिला है। पहले जमीन के लिए संघर्ष और अब चुनाव में अपने वर्चस्व की बात को लेकर साधु झगड़ लिए। मिली जानकारी के अनुसार श्री पंचदशनाम आह्वान अखाड़े के साधुओं के गुटों में मारपीट हुई।

दरअसल साधुओं के बीच विवाद हुआ और फिर दोनों पक्ष झगड़ लिए। झगड़े में तलवार के ही साथ लाठियों का उपयोग भी हुआ। दरअसल दत्त अखाड़ा झोन में श्री पंचदशनाम आह्वान अखाड़े में 4 पदों के लिए चुनाव हुए। जिसमें 4 मणि महंतों को चुना जाना था। जब एक गुट चुनाव हार गया तो उसने अपनी नाराजगी जाहिर की। जिसक बाद दूसरे पक्ष ने उसे समझाईश दी और जाने के लिए कहा।

विवाद करने वाला साधु वहां से चला गया लेकिन थोड़ी ही देर में अपने साथ 50 साधुओं को लेकर लौटा इन साधुओं के गुटों ने एक दूसरे पर हमला कर दिया। यह बात भी सामने आई है कि गणेश पुरी महाराज नामक साधु ने कुछ साधुओं की ओर गोलियां भी चलाईं। इस मामले में यह कहा गया कि नीलकंठ, कैलाश और सत्य गिरी उनके साथ ही थे। घायलों को माधवनगर चिकित्सालय में भर्ती कर दिया गया है। घायलों के तौर पर राहुल पुरी, राजेश पुरी, भोलापुरी, सनातन पुरी, नागेंद्र और राघव पुरी के तौर पर सामने आए हैं। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -