वास्तु शास्त्र के अनुसार ऐसे बनवाए घर, हमेशा रहेगी बरकत

वास्तु शास्त्र के अनुसार ऐसे बनवाए घर, हमेशा रहेगी बरकत
Share:

जब भी कोई अपना घर बनवाता है तो उसे वास्तु के मुताबिक ही बनवाते है. वहीं जो वास्तु के मुताबिक, अपना घर नहीं बनवाते हैं तो उनका परिवार हमेशा समस्याओं से घिरा ही नजर आता है. वहीं ज्योतिष भी घर को वास्तुशास्त्र के मुताबिक ही बनवाने की सलाह देते है. जिससे परिवार में हमेशा सुख-समृद्धि बनी रहे. वहीं हम यहां बता रहे हैं कि वास्तु शास्त्र के मुताबिक, घर में कौन सी दिशा में क्या होना चाहिए. वास्तु शास्त्र के मुताबिक, घर का मेनगेट किस दिशा में होना चाहिए. वास्तु के मुताबिक, घर में किचन किस दिशा में होना चाहिए. वहीं हम यहां बता रहे हैं कि वास्तु के मुताबिक, घर के कमरें, हॉल, बाथरुम, बेडरुम किस दिशा में होना चाहिए. 

पूर्व दिशा: 
पूर्व दिशा में सूर्योदय होता है. इस दिशा में घर का मेन गेट होने पर प्रातः-प्रातः सूर्य की सकारात्मक व ऊर्जावान किरणें हमारे घर में प्रवेश करती है. इस दिशा में घर का मेन गेट होने पर घर-परिवार में समृद्धि बनी रहती है. 

पश्चिम दिशा: 
वास्तु शास्त्र के मुताबिक, घर में किचन और टायलेट पश्चिम दिशा में होना चाहिए. वहीं इसका भी विशेष ध्यान रखें कि किचन एवं टायलेट आस-पास न हो. 

उत्तर दिशा: 
वास्तु शास्त्र के मुताबिक, घर के सबसे अधिक  खिड़कियां और दरवाजे इस दिशा में होने चाहिए. इतना हि नहीं इस दिशा में घर की बालकॉनी व वॉश बेसिन भी होनी चाहिए. इसके साथ आप घर का मेन गेट भी इस दिशा में रख सकते है. 

दक्षिण दिशा: 
वास्तु शास्त्र के मुताबिक, घर में इस दिशा में किसी भी तरह का खुलापन नहीं होना चाहिए. यदि घर में इस दिशा में कोई खिड़की या दरवाजा है तो घर में नकारात्मक उर्जा आती है. जिससे घर में क्लेश बना रहता है. 

उत्तर-पुर्व दिशा:
वास्तु शास्त्र के मुताबिक, घर में इस दिशा में जल का स्थान होना चाहिए. इस दिशा में बोरिंग, स्वीमिंग पूल, पूजास्थल आदि होने पर घर में सुख-समृद्धि आती है. 

उत्तर-पश्चिम दिशा: 
वास्तु शास्त्र के मुताबिक, घर में इस दिशा में आपका बेडरुम, गैरेज, गौशाला होना चाहिए. इस दिशा में बेडरूम होने पर परिवार में सुख बना रहता है. 

दक्षिण-पूर्व दिशा: 
वास्तु शास्त्र के मुताबिक, घर में इस दिशा में अग्नि तत्व होना चाहिए. इस दिशा में आपका गैस, बॉयलर, ट्रांसफॉर्मर आदि होना चाहिए. 

दक्षिण-पश्चिम दिशा: 
वास्तु शास्त्र के मुताबिक, घर में इस दिशा में किसी भी प्रकार का खुलापन नहीं होना चाहिए. इस दिशा में कोई दरवाजा, खिड़की नहीं होना चाहिए. वास्तु के मुताबिक, इस दिशा में आप कैश काउंटर, मशीनें रख सकते हैं. साथ ही इस दिशा में आप घर के मुखिया का कमरा बना सकते हैं. 

आंगन:
वास्तु शास्त्र के मुताबिक, घर में आंगन अवश्य होना चाहिए. घर के आगे और पीछे की ओर छोटा ही सही पर आंगन होनी चाहिए. इसके साथ ही आप आंगन में तुलसी, अनार, जामफल, मीठा या कड़वा नीम, आंवला आदि के अतिरिक्त सकारात्मक ऊर्जा देने वाले फूलदार पौधे भी लगाएं.

इन राशियों के लिए अगले 5 महीने रहेंगे बेहद शुभ, चमकेगी किस्मत

पीरियड्स में वट सावित्री व्रत रखें या नहीं? यहाँ जान लीजिए नियम

आखिर क्यों वट सावित्री व्रत के दिन बरगद के पेड़ में 7 बार बांधा जाता है कच्चा सूत?

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -