अतीत पे ध्यान मत दो, भविष्य के बारे में मत सोचो, अपने मन को वर्तमान क्षण पे केन्द्रित करो : महात्‍मा बुद्ध

हर साल बुद्ध पूर्णिमा का पर्व मनाया जाता है जो इस साल भी मनाया जाने वाला है. इस साल यह पर्व 7 मई को है. ऐसे में आप सभी को यह भी बता दें कि महात्‍मा बुद्ध ने अपने जीवन में ऐसे उपदेश दिए, जो बौद्ध धर्म के आदर्श बन गए और आज हम उन्ही उपदेशों को आपको बताने जा रहे हैं.

1. अतीत पे ध्यान मत दो, भविष्य के बारे में मत सोचो, अपने मन को वर्तमान क्षण पे केन्द्रित करो.
2. स्वास्थ्य सबसे बड़ा उपहार है, संतोष सबसे बड़ा धन है, वफ़ादारी सबसे बड़ा संबंध है.
3. जैसे मोमबत्ती बिना आग के नहीं जल सकती, मनुष्य भी आध्यात्मिक जीवन के बिना नहीं जी सकता.
4. हजारों खोखले शब्दों से अच्छा वह एक शब्द है जो शांति लाए.


5. एक जग बूँद-बूँद कर के भरता है.
6. किसी जंगली जानवर की अपेक्षा एक कपटी और दुष्ट मित्र से अधिक डरना चाहिए, जानवर तो बस आपके शरीर को नुक्सान पहुंचा सकता है, पर एक बुरा मित्र आपकी बुद्धि को नुक्सान पहुंचा सकता है.
7. आपके पास जो कुछ भी है है उसे बढ़ा-चढ़ा कर मत बताइए, और ना ही दूसरों से ईर्ष्या कीजिये. जो दूसरों से ईर्ष्या करता है उसे मन की शांति नहीं मिलती.


8. वह जो पचास लोगों से प्रेम करता है उसके पचास संकट हैं, वो जो किसी से प्रेम नहीं करता उसके एक भी संकट नहीं है.
9. क्रोध को पाले रखना गर्म कोयले को किसी और पर फेंकने की नीयत से पकड़े रहने के सामान है; इसमें आप ही जलते हैं.
10. हम जो कुछ भी हैं वो हमने आज तक क्या सोचा इस बात का परिणाम है. यदि कोई व्यक्ति बुरी सोच के साथ बोलता या काम करता है, तो उसे कष्ट ही मिलता है. यदि कोई व्यक्ति शुद्ध विचारों के साथ बोलता या काम करता है, तो उसकी परछाई की तरह ख़ुशी उसका साथ कभी नहीं छोड़ती.

अगर आपकी छाती पर भी हैं ज्यादा बाल तो आपके लिए ही है यह खबर

शादीशुदा महिलाओं को भूल से भी किसी अन्य महिला को नहीं देनी चाहिए यह चीजें

गरीब ब्राह्मण को मिला पारस पत्थर, उसने जो किया सुनकर नहीं होगा यकीन

Most Popular

- Sponsored Advert -