यहाँ जानिए बुद्ध पूर्णिमा पर क्या करें और क्या नहीं

आप सभी को बता दें कि आज बुद्ध पूर्णिमा है और आज के दिन भगवान बुद्ध का जन्म हुआ था. ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि इस दिन क्या करना चहिए और क्या नहीं.


बुद्ध पूर्णिमा के दिन क्या करें -  इस दिन सूरज उगने से पहले उठकर घर की साफ-सफाई करें. उसके बाद गंगा में स्नान करें या फिर सादे पानी से नहाकर गंगाजल का छिड़काव करें. अब घर के मंदिर में विष्णु जी की दीपक जलाकर पूजा करें और घर को फूलों से सजाएं. इसके बाद घर के मुख्य द्वार पर हल्दी, रोली या कुमकुम से स्वस्तिक बनाएं और गंगाजल छिड़कें. अब बोधिवृक्ष के आस-पास दीपक जलाएं और उसकी जड़ों में दूध विसर्जित कर फूल चढ़ाएं. अब इसके बाद गरीबों को भोजन और कपड़े दान करें. अब अगर आपके घर में कोई पक्षी हो तो आज के दिन उन्हें आज़ाद करें. इसके बाद रोशनी ढलने के बाद उगते चंद्रमा को जल अर्पित करें.

बुद्ध पूर्णिमा के दिन क्या ना करें - इस दिन यानी बुद्ध पूर्णिमा के दिन मांस ना खाएं. आज के दिन घर में किसी भी तरह का कलह ना करें और किसी को भी अपशब्द ना कहें. आज के दिन झूठ बोलने से बचें वरना आप बड़े संकट में घिर सकते हैं.

बुद्ध पूर्णिमा के दिन गंगा स्‍नान का है विशेष महत्‍व - कहते हैं हिंदू धर्म में हर महीने की पूर्णिमा विष्णु भगवान को समर्पित होती है और आज के समय में हर पूर्णिमा के दिन गंगा स्नान को अत्‍यंत लाभदायक माना जाता है, लेकिन आज के दिन कुछ ख़ास होता है. ज्योतिषों के मुताबिक़ इस माह होने वाली पूर्णिमा को सूर्य अपनी उच्च राशि मेष में और चांद भी अपनी उच्च राशि तुला में होता है. आज के दिन किया गया गंगा स्नान आपके सभी पापों को धो देगा.

आज है बुद्ध पूर्णिमा, इस तरह मनाते हैं बौद्ध धर्म के लोग

यहाँ जानिए बुद्ध पूर्णिमा का शुभ मुहूर्त और महत्व

तो श्रीराम के वंशज हैं भगवान बुद्ध!

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -