'ये चुनावी हथकंडा', पंजाब में दलित CM देख बोलीं मायावती

पंजाब को आखिरकार नए मुख्यमंत्री मिल ही गए। जी हाँ, आज यानी सोमवार को चरणजीत सिंह चन्नी को पंजाब का मुख्यमंत्री बना दिया गया है। शपथ ग्रहण करने के बाद चरणजीत सिंह चन्नी ने अपना कार्यभार संभाल लिया है हालाँकि इस बीच कांग्रेस विपक्ष के निशाने पर बनी हुई है। जी दरअसल आज उनकी ताजपोशी के बाद बसपा प्रमुख मायावती ने तंज कसा है। हाल ही में मिली जानकारी के तहत चरणजीत सिंह चन्नी के शपथ ग्रहण करने के बाद मायावती ने लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस की। इस दौरान मायावती ने सबसे पहले चरणजीत सिंह चन्नी को सीएम बनाए जाने पर बधाई दी।

वहीं उसके बाद उन्होंने कहा, ''चरणजीत सिंह चन्नी को कुछ वक्त के लिए पंजाब का मुख्यमंत्री बनाया जाना कांग्रेस का चुनावी हथकंडा है। आगामी पंजाब चुनाव इनके नेतृत्व में नहीं बल्कि गैर दलित के नेतृत्व में लड़ा जाएगा। इससे साफ होता है कि कांग्रेस का दलितों पर अब तक भरोसा नहीं हुआ है।'' इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा कि, 'पंजाब में कांग्रेस ने साजिश की है। कांग्रेस पंजाब में हमारे गठबंधन से परेशान है। मजबूरी में ही दलितों की याद आती है। कांग्रेस या जवाहर लाल नेहरू के पास बाबा आंबेडकर से कोई काबिल होता तो ये उन्हें संविधान बनाने में शामिल नहीं करते और दलितों को कानूनी अधिकार नहीं मिलते। मुस्लिम सुरक्षित नहीं होते।'

आगे उन्होंने भाजपा को अपने निशाने पर लेते हुए यह भी कहा कि, ''यूपी विधानसभा चुनाव से कुछ समय पहले ओबीसी समाज का नया प्रेम भाजपा दिखा रही है। ओबीसी के प्रति ईमानदारी होती तो जातिगत जनगणना को स्वीकार कर लेते। जातिगत जनगणना से घबरा रहे हैं। दलित अति पिछड़े किसी के बहकावे में नही आएंगे। क्योकि इन्हें जो मिला वो बाबा साहब आंबेडकर की वजह से मिला है।''

दिव्यांगों को घर जाकर कोरोना वैक्सीन लगाने की मांग, SC ने केंद्र को जारी किया नोटिस

'कर भला-हो भला', 20 करोड़ चोरी का आरोप लगने के बाद सोनू सूद ने तोड़ी चुप्पी

चरणजीत सिंह चन्नी ने ली पंजाब के नए सीएम के रूप में शपथ

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -