TRAI ने किया खुलासा,कहा- 'बीएसएनएल ने अक्टूबर महीने में 50,000 ब्रॉडबैंड उपभोक्ताओं को खोया

भारत सरकार के स्वामित्व वाली भारत संचार निगम लिमिटेड ने अक्टूबर में लगभग 50,000 ब्रॉडबैंड ग्राहकों को खो दिया। टेलीकॉम दिग्गज भारती एयरटेल और रिलायंस जियो ने अधिक ग्राहक प्राप्त किए, क्योंकि एयरटेल एक्सस्ट्रीम फाइबर का उपयोगकर्ता आधार अक्टूबर के महीने में 2.6 मिलियन से बढ़कर 2.67 मिलियन हो गया। दूसरी ओर, बीएसएनएल ने अक्टूबर के अंत में अपने ब्रॉडबैंड ग्राहकों की संख्या 7.8 मिलियन से घटाकर 7.75 मिलियन कर दी। दूसरी ओर, 406.36 मिलियन ग्राहकों के साथ वायरलेस ब्रॉडबैंड सेगमेंट में Jio अव्वल रहा।

ट्राई की अक्टूबर महीने की रिपोर्ट के अनुसार, सरकारी स्वामित्व वाले बीएसएनएल के वायर्ड ब्रॉडबैंड ग्राहक सितंबर में 7.8 मिलियन से अक्टूबर में 7.75 मिलियन तक की गिरावट दर्ज करते हैं। यह एक महीने के अंतराल में लगभग 50,000 ग्राहकों के नुकसान का संकेत देता है। भारती एयरटेल 2.67 मिलियन वायर्ड ब्रॉडबैंड ग्राहकों के साथ दूसरे स्थान पर आता है। दूसरी टेलिकॉम कंपनियों की बात करें तो अटरिया कन्वर्जेंस के 1.74 मिलियन सब्सक्राइबर हैं, रिलायंस जियो के 1.7 मिलियन सब्सक्राइबर हैं और अक्टूबर के अंत में हैथवे केबल के कुल 1.05 मिलियन सब्सक्राइबर हैं। सितंबर के महीने की बात करें तो Jio के कुल 1.52 मिलियन ग्राहक थे जो अब बढ़कर 1.7 मिलियन हो गए हैं।

वायरलेस ब्रॉडबैंड की बात करें तो अक्टूबर अंत तक रिलायंस जियो 406.36 मिलियन ग्राहकों के साथ शीर्ष पर पहुंच गया है। भारती एयरटेल को 167.56 मिलियन ग्राहकों के साथ दूसरा स्थान मिला, वोडाफोन आइडिया तीसरे में 120.49 मिलियन ग्राहक हैं, जहां बीएसएनएल के 18.12 मिलियन ग्राहक हैं, और तिकोना 0.31 मिलियन ग्राहकों के साथ अंतिम स्थान पर है।

स्मृति ईरानी का राहुल पर हमला, कहा- कृषि कानून पर किसानों को गुमराह कर रहे

पीएम मोदी ने करोड़ों किसानों के खाते में डाले 2-2 हज़ार रुपए, आंदोलनरत कृषकों से की ये अपील

केरल सरकार ने विधानसभा के विशेष सत्र को फिर से बुलाने की सिफारिश की

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -