125 करोड़ की ठगी करने के मामले में BSF का डिप्टी कमांडेंट प्रवीण यादव गिरफ्तार

नई दिल्ली: राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (NSG) में अपने आप को IPS अफसर बताकर 125 करोड़ रुपये की ठगी करने वाला मास्टरमाइंड विदेश भागने की फ़िराक में था। विदेश जाने के लिए ठग ने तैयारियां भी शुरू कर दी थीं, मगर उसके विदेश जाने से पहले ही क्राइम ब्रांच मानेसर ने मास्टरमाइंड BSF के डिप्टी कमांडेंट प्रवीण यादव, पत्नी ममता यादव और बहन रितुराज यादव को अरेस्ट कर लिया है।

आरोपियों के बैंक अकाउंट में करोड़ों रुपये आने के बाद आरोपियों ने सबसे पहले उन पैसों से लग्जरी कारें खरीदीं। इसके अलावा प्रॉपर्टी खरीदी और लग्जरी विला को किराये पर लेकर अय्याशी भी की थी। इसके बाद करोड़ों रुपयों का एक बार फिर से शेयर बाजार में भी लगाया था। जांच में पता चला है कि आरोपी ने ठगी की योजना पर वर्ष 2021 सितंबर में काम करना आरम्भ कर दिया था। 

ऐसे में छह महीनों में उसने 125 करोड़ रुपये की ठगी कर ली थी। करोड़ों रुपये मिलने के बाद आरोपी ने अय्याशी शुरू कर दी। सबसे पहले उसने लग्जरी कारें खरीदी और देश में कई जगहों पर घूमने भी गया। हालांकि ने आरोपी पुलिस पूछताछ में खुलासा किया कि उसको उम्मीद नहीं थी कि वह इतनी जल्दी गिरफ्तार कर लिया जाएगा। बता दें कि इस मामले में मास्टरमाइंड समेत 4 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है 

केरल की नन को बड़ा झटका, 14 बार बलात्कार करने के आरोप में कोर्ट ने बिशप को किया बरी

असम के बारपेटा में संदिग्ध दवाओं के साथ छह लोग गिरफ्तार

मिजोरम : लावंगतलाई जिले के नघालिमलुई गांव में मिला महिला का शव

 

Most Popular

- Sponsored Advert -