बिहार: 15.29 लाख विद्यार्थियों की मैट्रिक परीक्षा आज से शुरू, शिक्षक हड़ताल पर

बिहार: 15.29 लाख विद्यार्थियों की मैट्रिक परीक्षा आज से शुरू, शिक्षक हड़ताल पर

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति (BSEB - Bihar School Education Board) द्वारा बिहार बोर्ड मैट्रिक 2020 परीक्षा सोमवार, 17 फरवरी 2020 से शुरू हो गयी है। वहीं इस बार बिहार बोर्ड मैट्रिक परीक्षा में लगभग 15.29 लाख विद्यार्थी मौजूद हो रहे हैं। लेकिन शिक्षक हड़ताल पर हैं। इसके अलावा बीएसईबी द्वारा मैट्रिक परीक्षा का आयोजन राज्य के 1368 केंद्रों पर किया जा रहा है। इसके अलावा परीक्षा दो पालियों में संचालित की जा सकती है। पहली पाली सुबह 9.30 बजे से दोपहर 12.15 बजे तक जबकि दूसरी पाली दोपहर 1.45 बजे से दोपहर 4.30 बजे तक हो सकती है । पहले दिन विज्ञान विषय की परीक्षा है।

परन्तु इन सब से बेपरवाह शिक्षकों ने हड़ताल का एलान कर दिया। परीक्षा बिना किसी बाधा के संचालित हो सके और विद्यार्थियों के भविष्य से खिलवाड़ न हो, इसके लिए शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा ने शिक्षकों से अपील भी की।  इसके अलावा शिक्षा विभाग ने ये भी आदेश जारी किया है कि यदि हड़ताल के कारण परीक्षा में किसी तरह की बाधा डालने का प्रयास किया गया, तो दोषियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कर उन्हें निलंबित या बर्खास्त किया जा सकता है। इसके अलावा सरकार का कहना है कि परीक्षा के आयोजन के लिए वैकल्पिक इंतजाम किए गए हैं।

पर्यवेक्षक, पंचायत सचिव, कृषि समन्वयक, किसान सलाहकार आदि की सेवा ली जाएगी। हड़ताल का असर परीक्षा पर नहीं पड़ेगा। इसके अलावा  28 शिक्षक संघों की ओर से बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के सलाहकार शिशिर कुमार पांडेय का कहना है कि सोमवार से ही शिक्षक अपनी मांगों को लेकर हड़ताल पर रहेंगे। उनका दावा है कि राज्यभर में प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक स्तर तक के करीब 76 हजार स्कूलों में पढ़ाई नहीं कराई जाएगी। 

Bihar STET: परीक्षा की उत्तर कुंजी हुई जारी, एक दिन बाद नहीं उठा पाएंगे ऑब्जेक्शन

पशु चिकित्सा सहायक सर्जन के पदों पर वैकेंसी, सैलरी 56,100 रु

आशुलिपिक के पदों पर वैकेंसी, सैलरी 25,500 रु