मेले में बहन की रक्षा करना भाई को पड़ा भारी, हुई दर्दनाक मौत

उज्जैन: मध्य प्रदेश के उज्जैन के कार्तिक मेले में मंगलवार रात एक शख्स का चाकू से गोदकर क़त्ल कर दिया गया। मेले में उपस्थित कुछ मनचले युवक की मौसेरी बहन के साथ छेड़छाड़ कर रहे थे। जब शख्स ने इसका विरोध किया तो अपराधियों ने उस पर चाकू से हमला कर दिया। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

घटना की खबर प्राप्त होते ही पुलिस मौके पर पहुंची शव को कब्जे में लिया तथा पोस्टमार्टम के लिए भेज मामले की तहकीकात आरम्भ की। मौके पर उपस्थित व्यक्तियों ने पुलिस को बताया कि हमलावरों की संख्या 20 से 25 थी। आगरा का रहने वाला दीपू (22) बुधवारिया में रहने वाली मौसी कांताबाई के यहां मिलने आया था। इस के चलते परिवार में एक बच्चे का जन्मदिन होने पर दूसरे रिश्तेदार भी आए हुए थे। मंगलवार रात परिवार के सभी लोग कार्तिक मेला घूमने गए। 

वही यहां नाव वाले झूले पर कुछ लड़कों ने परिवार की एक युवती पर कमेंट्स करते हुए छेड़छाड़ की। दीपू ने उनको कमेंट करने से रोका तथा झगड़ा आरम्भ हो गया। लगभग 20 से 25 लड़कों ने दीपु पर हमला कर दिया और चाकू से सीने में हमला कर उसे मौत के घाट उतार दिया। महाकाल थाना मुनेंद्र गौतम का कहना है कि 5 अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। अन्यों की तलाश की जा रही है, जल्द ही उन्हें भी पकड़ लिया जाएगा। इस घटना के पश्चात् से मृतक के परिवार में मातम पसरा हुआ है। बता दें, उज्जैन का कार्तिक मेला पूरे मध्य प्रदेश में लोकप्रिय है, जो लगभग 1 माह तक चलता है। 4 वर्ष पहले भी आपसी विवाद में इसी प्रकार हत्या की घटना हो चुकी है। तब कार्तिक मेले में रात 12 बजे भैरवगढ़ के विनायका गांव निवासी जीवन पिता जगदीश का क़त्ल कर दिया गया था।

FIFA देखते रह गए राहुल, चुनावों में कांग्रेस 'फुटबॉल' बन गई, अपने ही नेता दे रहे ताने

MCD चुनाव: 'जनता ने मुझे बेहिसाब प्यार दिया..', जीत दर्ज करने के बाद बोलीं बॉबी किन्नर

महाकाली नदी के रास्ते में नहीं होगा कोई परिवर्तन, भारत-नेपाल में बनी सहमती

न्यूज ट्रैक वीडियो

Most Popular

- Sponsored Advert -