इस विदेशी सब्जी की अब भारत में भी बढ़ने लगी है मांग, यह है इसके कारण

इस विदेशी सब्जी की अब भारत में भी बढ़ने लगी है मांग, यह है इसके कारण

ब्रोकली भारतीय रसोईघरों में धीरे-धीरे अपनी जगह बनाती जा रही है। ब्रोकली उन सब्जियों के समूह में शामिल है जिन्हें किसी भी तरह से खाया जा सकता है। कुछ लोग इसकी सब्जी बनाकर इसे खाना पसंद करते हैं, कुछ लोग इसे उबालकर खाते हैं तो कुछ लोग ब्रोकली को कच्चे सलाद के रूप में भी इस्तेमाल करते हैं।वही इसमें एंटी ऑक्सीडेंट्स और फायटोकेमिकल्स के साथ- साथ इसमें आयरन, कैल्शियम, कार्बोहाइड्रेट, क्रोमियम, प्रोटीन, विटामिन ए और सी सहित कई तरह के पोषक तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं।

त्वचा में निखार लाना है तो रोज रात करना होगा पार्टनर के साथ यह काम

यह गुण होते है इसमें विद्यमान 

जानकारी के लिए हम आपको बता दें ब्रोकली में कैल्शियम, मैग्नीशियम, जिंक औऱ फास्फोरस पर्याप्त मात्रा में पाए जाते हैं, जो हड्डियों को मजबूत बनाने में हमारी मदद करते हैं। ब्रोकली में पाए जाने वाले मिनरल्स और इंसुलिन बीपी और शुगर के लेवल को नॉर्मल रखता है। वही इसमें मौजूद क्रोमियम शरीर में इंसुलिन के प्रोडक्शन को कंट्रोल करता है। इसलिए डायबिटीज के मरीजों को ब्रोकली का सेवन नियमित रूप से करना चाहिए। 

यदि आपको भी है 'कब्ज' की समस्या तो इन आसान उपायों से पाए छुटकारा

यह भी सेवन के अन्य फायदे 

इसी के साथ हम आपको बता दें आंखों संबंधी समस्याओं जैसे मोतियाबिंद और मस्कुलर डिजनरेशन से निपटने के लिए ब्रेकली सर्वोत्तम आहार है। इसमें बीटा कैरोटीन भरपूर मात्रा में पाया जाता है। आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए इसका नियमित सेवन काफी फायदेमंद है आपके बता दे ब्रेसिक्सा वानस्पतिक परिवार के सदस्यों में शामिल यह ब्रोकली है, जिसे सब्जी के साथ कच्चे सलाद के रूप में भी खूब इस्तेमाल किया जाता है।

दिल को रखना है स्वस्थ तो रोजाना करें 'फूलगोभी' का सेवन

इन गंभीर बीमारियों को चुटकी में दूर करता है 'शकरकंद'

अब तक कही नहीं मिला 'मशरूम' से ज्यादा पौष्टिक आहार, आप भी जानिए इसके फायदे