नहीं मिल पाई ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरेसा मे की योजना को संसद की मंजूरी

Jan 16 2019 09:24 AM
नहीं मिल पाई ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरेसा मे की योजना को संसद की मंजूरी

लंदन : यूरोपीय संघ से ब्रिटेन के अलग होने की ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरेसा मे की योजना को संसद की मंजूरी नहीं मिल पाई। उनके प्रस्ताव को हाउस ऑफ कॉमंस में खारिज कर दिया गया। 432 सांसदों में से मे को केवल 202 सांसदों का समर्थन मिल सका। बहुमत का आंकड़ा 230 है।

बैंकॉक का प्रदूषण का स्तर घटाएगी कृत्रिम बारिश

मतदान से पहले यह हुई चर्चा 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ब्रिटिश प्रधानमंत्री की इस ऐतिहासिक हार के बाद विपक्षी लेबर पार्टी ने सरकार के खिलाफ अविश्वास मत का प्रस्ताव दिया है। लेबर पार्टी के नेता ने कहा कि प्रधानमंत्री की ब्रेग्जिट डील खारिज होने से साफ है कि सरकार ने सदन का विश्वास खो दिया है। बता दें मतदान से पहले टेरीजा मे ने सासंदों से इस प्रस्ताव पर फिर से विचार करने का आग्रह किया था। उन्होंने कहा था, ‘यह पूरी तरह सही नहीं है, लेकिन वास्तव में यही बीच का रास्ता है। जब इतिहास लिखा जाएगा, तो लोग संसद के फैसले को देखेंगे और पूछेंगे, क्या हमने यूरोपीय संघ को छोड़ने के लिये मतदान किया या देश की जनता को निराश किया।’

केन्या की राजधानी नैरोबी में हुआ बड़ा आतंकी हमला, कई लोगों ने गंवाई जान

नहीं निकल पाया रास्ता 

जानकारी के लिए बता दें करीब 18 महीने तक चली बातचीत के बाद नवंबर, 2018 में यूरोपीय संघ के साथ ब्रेक्जिट समझौते पर सहमति हुई थी। दिसंबर में समझौते को लेकर हाउस ऑफ कॉमन्स में मतदान होना था। परन्तु, हार के डर से इसे टाल दिया गया था। इसके बाद से टेरीजा मे सांसदों को इस बारे में समझा रही थीं। उन्हें उम्मीद थी कि वह सांसदों को मना लेंगी।

काबुल : कार में हुआ जोरदार बम धमाका, 50 से ज्यादा लोग घायल

ऑस्ट्रेलिया ओपन : एंजेलिके केर्बर ने जीत के साथ अगले दौर में रखा कदम

ये है दुनिया का सबसे कम आबादी वाला देश, जहां रहता है सिर्फ एक व्यक्ति