हाथ पर 'फिलिस्तीनी' झंडा बनाए स्कूल पहुंची छात्राएं, टीचर ने टोका तो परिजनों ने किया हंगामा

लंदन: ब्रिटेन के स्टैफोर्डशायर स्थित बर्टन के एक स्कूल में टीचर ने छात्राओं से हाथ पर बनाया फिलिस्तीन का झंडा मिटाने के लिए कहा। इसके बाद से उस टीचर को स्कूल से निकाल बाहर करने की माँग की जा रही है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, दो छात्रा हाथ पर फिलिस्तीन का झंडा रंगकर स्कूल पहुँचीं थी। टीचर द्वारा टोके जाने के बाद उनके अभिभावक बर्टन की द डे फेरर्स अकादमी के बाहर आकर विरोध प्रदर्शन करने लगे।

जानकारी के अनुसार, स्कूल के हेडमास्टर से शिक्षक को निकालने के लिए 1000 अभिभावकों ने ऑनलाइन एक पीटिशन साइन की। इसमें लिखा गया कि कुछ छात्रों ने अपने हाथों को फिलिस्तीनी झंडे बनाए थे। उनसे कहा गया कि वे आतंकवादी समूह का समर्थन कर रहे हैं। इसमें आगे कहा गया है कि, “फिलिस्तीन कैसे आतंकवादी हो जाता है, जिस पर बमबारी की गई, घायल किया गया और मारा गया।” डी फेरर्स ट्रस्ट ने बताया कि घटना के बाद से समुदाय के कुछ लोगों में गुस्सा है। ट्रस्ट मुख्य कार्यकारी इयान मैकनेली ने कहा कि बीच में ऐसी बातें सामने आ रही थी कि इस संबंध में विरोध-प्रदर्शन होगा। किन्तु उन्होंने स्कूल के बाहर की व्यस्त सड़क को देखते हुए अनुरोध किया कि ऐसा न किया जाए। उन्होंने कहा कि, “समुदाय के कुछ लोगों में तनाव है, किन्तु पुलिस अपनी ड्यूटी करते हुए हमारा समर्थन कर रही है और सलाह भी दे रही है कि स्थिति को किस तरह सँभाला जाए।”

इयान के मुताबिक, “हमारी सबसे बड़ी चिंता हमारे छात्रों की सुरक्षा और उनका भला है। इसलिए हम हिदायत दे रहे हैं कि वे किसी भी विरोध-प्रदर्शन में शामिल न हों।” वह कहते हैं कि, “ऐसा इसलिए नहीं है क्योंकि हम ऐसे विरोध की प्रकृति के खिलाफ हैं जो मानव संकट की तरफ ध्यान आकर्षित करवाता हो। बल्कि इसलिए क्योंकि हमें लगता है कि पहले से एक व्यस्त जगह पर चल रहे स्कूल में भीड़ जमा करना कोई अच्छी बात नहीं है।”

जर्मन राष्ट्रपति स्टीनमीयर अपने दूसरे कर्यकाल के लिए कर रहे है विचार

आईसीजी जहाज वैभव और वज्र कंटेनर जहाज एमवी एक्स-प्रेस पर्ल में लगी आग

जॉनसन एंड जॉनसन कोरोना वैक्सीन को मेक्सिको से मिली आपातकालीन मंजूरी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -