लोगों को परोसते थे 'इंसानी मल' मिला हुआ खाना, होटल मालिक अब्दुल और अमज़द गिरफ्तार

लंदन: कहीं पेशाब, कहीं थूक तो अब मानव मल भी, आप इसे कौन सा कृत्य कहेंगे, कौन सा आतंकवाद कहेंगे ये आपके ऊपर है, पर ये खबर आपके और आपके परिवार के सदस्यों के लिए बेहद जरुरी है, क्यूंकि आप सब भी बाहर ढाबे, रेस्तरा, होटल इत्यादि में खाना खाते ही होंगे और आप कभी इस पर ध्यान नहीं देते होंगे की ढाबा, रेस्तरा, होटल मजहबी उन्मादियों का है या किसी और का।

जिन दो उन्मादियों की तस्वीर आपको ऊपर नज़र आ रही है, उसमे पहले वाले का नाम है मोहम्मद अब्दुल बासित, तो दुसरे का नाम है अमजदये दोनों लम्बे समय से होटल चला रहे थे, जहाँ लोग बैठकर खाना खाते थे या फिर पैक घर ले जाते थे, इन दोनों को अरेस्ट कर जेल में बंद किया गया है। डेलीमेल की रिपोर्ट के अनुसार, दरअसल इनके लगभग 50 ग्राहकों ने अलग अलग तरह के इन्फेक्शन की बात डाक्टरों से कही, जब जांच की गयी तो पता चला की सबको Food Poisoning है, जांच में खुलासा हुआ कि जो खाना इन लोगो ने खाया था उसमे इंसानी मल था, एक 13 साल की लड़की को तो ऐसा इन्फेक्शन हो गया की उसे ICU में एडमिट करवाना पड़ा, डाक्टरों ने बड़ी मशक्कत कर उसकी जान बचाई 

इन सभी 150 लोगो में एक ही चीज़ कॉमन है और वो ये की इन सभी ने खैबर पास कबाब शॉप से खाना ख़रीदा था, फिर जांच टीम अचानक इस होटल में भी पहुँच गयी और बने हुए खाने को जब्त किया गया तो पता चला की उसमे भी इंसानी मल मिला हुआ है। इसके बाद होटल चलाने वाले मोहम्मद अब्दुल बासित और अमजद को अरेस्ट कर लिया गया, घटना ब्रिटेन के नाटिंघम की है। जानकारी ये भी मिली है कि होटल में 2 अलग अलग जगह पर खाना बन रहा था, एक जगह पर स्वच्छ खाना बन रहा था व दूसरे में मानव मल वाला, ये उन्मादी अपने धर्म को छोड़कर बाकी सभी लोगों को मानव मल वाला खाना खिलाते थे।

शर्मनाक वारदात: बेटे ने ली अपनी बुजुर्ग माँ की जान, वजह जान आप भी हो जाएंगे हैरान

दिव्यांग बेटे ने नहीं पहना मास्क तो पिता ने ले ली उसकी जान

पहले मुंह दबाया, फिर पिला दिया सेनेटाइजर, उपद्रवियों ने 'कोरोना योद्धा' को मार डाला

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -