सच्चा प्यार करने वालों का नहीं होता ब्रेकअप, ये तो टाइमपास करने वालों के चोचले हैं

‘ब्रेकअप’ का नाम सुनते ही स्पष्ट हो जाता है दिल का टूटना. दिल टूटा यानी ब्रेकअप. आप सभी को बता दें कि आज ब्रेकअप डे है. ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि आखिर क्या होता है ब्रेअकप डे का मतलब. जी हाँ, लोगों को लगता है जब एक प्रेमी जोड़ा अलग हो जाता है तो वह ब्रेकअप होता है लेकिन ऐसा नहीं है. जी हाँ, पहले तो आप सभी को बता दें कि ब्रेकअप डे का मतलब होता है एक खास दिन, जब प्रेमी एक दुसरे से अलग होने का उत्सव मनाते हैं और दोनों एक दूजे से अलग होकर खूब एन्जॉय करते हैं.

आप सभी को बता दें कि ब्रेकअप डे 21 फरवरी के दिन मनाया जाता है और जब कोई प्रेमी युगल रिश्ता खत्म करते हैं तो इस दिन को मनाते हैं. ऐसे में आप सभी को यह भी बता दें कि ब्रेकअप डे का मतलब केवल वहीं लोग समझ सकते हैं जो सच्चा प्यार नहीं कर पाते हैं क्योंकि सच्चे प्यार में कभी ब्रेकअप नहीं होता है. अगर कोई किसी से सच्चा प्यार करता है तो ब्रेकअप का सवाल ही पैदा नहीं होता है बल्कि अगर कोई जुड़ा होता है तो बात मरने पर आ जाती है क्योंकि सच्चा प्यार करने वालों के लिए जुदाई केवल मौत होती है इस कारण से केवल टाइमपास करने वालों के लिए ब्रेकअप डे मनाने का दिन होता है सच्चा प्यार करने वालों के लिए नहीं.

कहते हैं ब्रेकअप उन लोगों को होता है जो अपने प्यार पर विशवास नहीं करते हैं और हर समय केवल दूसरों को अच्छा समझते हैं. ऐसे लोग जिनका दिल एक पर नहीं रुकता वह भटकता रहता है ऐसे लोगों का ब्रेकअप हो जाता है लेकिन जो सच्चा प्यार करते हैं उन्हें केवल एक इंसान भाता है और वह उसके अलावा किसी को पसंद नहीं करता है. ऐसे में सच्चे प्यार में कभी भी ब्रेकअप नहीं होता है.

जल समाधि लेने के लिए कुएं में कूदा था लड़का, लड़की बनकर निकला बाहर

नौकरी छोड़ ये लड़का बन गया ‘डिजिटल भिखारी', महीने के कमाता है लाखों रूपए

यहां पानी नहीं बल्कि क्रूड ऑयल में नहाते हैं लोग, वजह हैरान कर देगी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -