मुक्केबाज विकास कृष्णन ने ट्रेडिशनल प्रैक्टिस को नहीं बताया उचित

Jul 31 2020 05:08 PM
मुक्केबाज विकास कृष्णन ने ट्रेडिशनल प्रैक्टिस को नहीं बताया उचित

देश के जाने माने मशहूर मुक्केबाज विकास कृष्णन ने पटियाला में नेशनल कैंप में अभ्यास करने के जगह अमेरिका में अपने पेशेवर करियर को आगे बढ़ाने का निर्णय किया है. चूँकि उनका मानना है कि अगले वर्ष टोक्यो ओलंपिक में पोडियम स्थान प्राप्त करने के लिए पारंपरिक ट्रेनिंग ही काफी नहीं है.

विकास कृष्णन इस वक़्त एक अन्य मुक्केबाज और करीबी मित्र नीरज गोयत के साथ बेंगलुरु के इंस्पायर इंस्टीट्यूट ऑफ स्पो‌र्ट्स में अभ्यास कर रहे हैं, क्योंकि उन्हें कोरोना के चलते क्वारंटाइन दिशानिर्देशों के कथित उल्लघंन की वजह से एनआइएस पटियाल को छोड़ने को कह दिया गया. तत्पश्चात इसे अनजाने में किया गया उल्लघंन माना गया. स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया ने उन्हें टेस्ट के पश्चात् लौटने की मंजूरी देने का निर्णय किया, किन्तु उनकी वापस जाने की कोई प्लानिंग नहीं है.

विकास कृष्णन आइआइएस में अमेरिकी कोच रोनल्ड सिम्स के मार्गदर्शन में अभ्यास कर रहे हैं. उन्होंने अपने बयान में कहा, 'मैं यहां में अभ्यास जारी रखूंगा. मैं लय में आ गया हूं और फिर से पटियाला जाने की मेरी कोई इच्छा नहीं है. मुझे इसका कोई मतलब नहीं दिखता.' पटियाला में हुए तनाव के बारे में पूछने पर विकास ने कहा, 'मैंने कभी भी किसी को हानि नहीं पहुंचाई. मैंने गलती की, किन्तु मेरी इच्छा सिर्फ अपने देश के लिए अच्छा करने की ही थी. मैंने किसी के लिए कोई परेशानी खड़ी नहीं की.' यह वेल्टरवेट (69 किग्रा) मुक्केबाज प्रो सर्किट में 70 किग्रा वर्ग में खेलेगा. इसी के साथ विकास कृष्णन का वापस लौटने का कोई इरादा नहीं है.

विश्वनाथन आनंद की लगातार हुई हार, आठ हार के साथ नौवें स्थान पर रहे

मैक्सिको की गोल्फर गैबी लोपेज को हुआ कोरोना, एलपीजीए प्रतियोगिता से हटी

National Sports Day 2020: कोरोना के वजह से खेल दिवस पर नहीं हो सकता है पुरस्कार समारोह