मां-बेटे के विवाद में जब बाउंसरों को दबंगई दिखाना पड़ गया महंगा...

मेरठः बाउंसरों को दबंगई दिखाना उस समय महंगा पड़ गया जब थाना मेडिकल पुलिस ने उन पर लाठिया भांजनी शुरू कर दी। घटना उस समय की है जब ये बाउंसर एक कॉम्पलैक्स के समीप झुग्गी झोपड़ी में रहने वाले मां-बेटे के विवाद में पहुंचे थे। महिला ने झोपड़ी के बराबर में ही चाय की दुकान लगा रखी है। आरोप है कि उक्त दुकान में महिला बाउंसरों को बैठाकर शराब पिलाती है और जुआ खिलाती है। जब उसका बेटा सुनील इसका विरोध करता है तो वह बाउंसरों से पिटवाने की धमकी देती है। शुक्रवार को भी जब सुनील ने विरोध किया तो उसकी मां ने बाउंसरों को बुलवाकर उसकी पिटाई करा दी।

इस घटना की खबर किसी ने पुलिस को दे दी। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने बाउंसरों को लपेटे में ले लिया और उन पर लाठी बरसाना चालू कर दी। आसपास के लोगो के अनुसार महिला विमला की दुकान पर बैठकर शराबखोरी करने वाले लोग आने-जाने वाली महिलाओं और युवतियों के साथ छेड़छाड़ करते हैं। कई दफा इसका विरोध किया गया, लेकिन महिला नही मानी। जानकारी में पता चला की पुलिस भी महिला को कई बार इस बारे में चेतावनी दे चुकी है।

मौके पर पहुंची पुलिस ने बाउंसरों पर लाठियो से हमला किया तो वह भागने लगे इस दौरान पुलिस ने उन्हें दौड़ा-दौड़कर पीटा जिसमे एक बाउंसर को पुलिस ने दबोच लिया। बाद में दोनों पक्षों में समझोता होने पर उसे छोड़ दिया।

Most Popular

- Sponsored Advert -