शिवसेना को कंगना की माँ ने बताया डरपोक-कायर, कहा- 'मेरी बेटी के साथ अन्याय...'

कंगना रनौत और शिवसेना के बीच जंग जारी है. दोनों के बीच जुबानी जंग चल रही है और तनातनी का माहौल देखने को मिल रहा है. अब इसी बीच कंगना के सपोर्ट में कई लोग आ रहें हैं और इन्ही में शामिल हैं कंगना की मां आशा रनौत. उन्होंने अपनी बेटी का सपोर्ट किया है. जी दरअसल वह इस समय खुलकर सामने आ रही हैं और अपनी बेटी के बारे में बोल रहीं हैं. एक वेबसाइट से बातचीत में हाल ही में कंगना की माँ ने कहा कि, 'शिवसेना ने मेरी बेटी के साथ अन्याय किया. पूरे भारत वर्ष की जनता इसे बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करेगी.'

उन्होंने कहा- 'अगर कंगना गलत होती तो देश की जनता उसके साथ नहीं होती. कैसी सरकार है. मेरी बेटी उसकी प्रजा का एक अंग है. उसके साथ इतना अन्याय हुआ है. ये कैसी सरकार है. इसको सरकार बोलते हैं. ये बाल ठाकरे की शिवसेना है, नहीं. ये वो बाल ठाकरे की शिवसेना नहीं है, जिसे हम बचपन से सुनते आ रहे हैं. ये शिवसेना डरपोक है, कायर है. मेरी बेटी ने 15 साल मेहनत करके एक-एक पैसा जोड़कर ऑफिस बनाया. उनकी तरह थोड़ी हम खानदानी हैं. हम एक मध्यम परिवार से हैं. सब ने देखा है कि मेरी बेटी ने कैसे मेहनत से पैसा इकट्ठा किया है. इनके पास तो अपने मां-बाप की प्रॉपर्टी है, जिसके ऊपर वो इतना घमंड कर रहे हैं और अत्याचार कर रहे हैं.'

इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा, 'मेरी बेटी ने सच्चाई का साथ दिया है. पूरे भारत वर्ष मेरी बेटी के साथ खड़ा है और खड़ा रहेगा. मैं अमित शाह और हिमाचल सरकार का धन्यावाद करती हूं, जिन्होंने मेरी बेटी की सुरक्षा की. इन लोगों का तो क्या पता ये क्या करते. इनका कोई विश्वास नहीं है. क्यों भाजपा सुरक्षा नहीं देती मेरी बेटी को, क्यों विपक्ष पार्टियां बोलती हैं. उन्हें क्या तकलीफ है, क्या उनके घर में बेटियां नहीं हैं. क्यों उन लोगों ने मेरी बेटी के बारे में इतनी बकवास बातें बोली. अगर कोई सच्चाई का साथ दे तो उसका साथ देना चाहिए.' वैसे कंगना की माँ हमेशा से अपनी बेटी के सपोर्ट में खड़ी रहीं हैं उन्होंने अपनी बेटी का हमेशा साथ दिया है.

source: aajtak.in

सोनम को कंगना ने बताया स्मॉल टाइम ड्रगी, कही यह बात

रोज गोमूत्र पीते हैं अक्षय कुमार, किया वजह का खुलासा

मुंबई आकर कंगना ने नहीं की अपनी मां से बात, बोली- 'उनका चेतावनी भरा चेहरा...'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -