उद्धव सरकार का विरोध करना नवनीत राणा को पड़ रहा भारी, अब BMC ने थमाया नोटिस

मुंबई: अमरावती से निर्दलीय सांसद नवनीत राणा की मुश्किलें एक बार फिर बढ़ती नज़र आ रही हैं। नवनीत राणा द्वारा महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे के आवास मातोश्री के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ करने के ऐलान के बाद जमकर हंगामा हुआ था। इस मामले में वह जेल में भी गई थीं। हालांकि बाद में उन्हें जमानत मिल गई थी। अब नवनीत राणा और उनके पति रवि राणा को बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) ने नोटिस भेज दिया है। ये नोटिस मुंबई के खार इलाके में स्थित उनके आवास में अवैध निर्माण के संबंध में जारी किया गया है।

बता दें कि हनुमान चालीसा विवाद के दौरान मुंबई की सियासत में जमकर हंगामा हुआ था। राणा दंपति को हनुमान चालीसा का पाठ करने की घोषणा को लेकर 23 अप्रैल को अरेस्ट किया था। शिवसैनिकों की शिकायत के बाद पुलिस ने उनके खिलाफ केस दर्ज कर लिया था। नवनीत राणा पर सबसे बड़ी धारा 124A यानी राजद्रोह की धारा भी लगाई गई थी। हालांकि, स्पेशल कोर्ट ने उन्हें सशर्त जमानत दे दी थी। नवनीत राणा और उनके पति रवि राणा 13 दिन बाद जेल से बाहर आए थे।

जेल से रिहा होते ही नवनीत को मेडिकल टेस्ट के लिए लीलावती अस्पताल ले जाया गया था। हालांकि बाद में उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया था। इसके बाद अब नवनीत राणा और उनके पति को अवैध निर्माण के मामले में बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) ने नोटिस भेजा है। हालांकि, इस संबंध में अभी नवनीत राणा की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई है।  

'कांग्रेस किसी भी दूसरे विपक्षी दल से बेहतर नहीं..', कैंब्रिज में ये क्या बोल गए राहुल गांधी ?

देश में कौन छिड़क रहा मिटटी का तेल ? राहुल के आरोपों पर भाजपा ने चुन-चुनकर किया पलटवार

विधायकों के ट्रेनिंग प्रोग्राम में नहीं जाएंगे आज़म खान और अब्दुल्ला आज़म

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -