MP में होने वाले चुनावों को लेकर एक्शन में भाजपा-कांग्रेस, जानिए इनके प्लान

भोपाल: मध्य प्रदेश में होने वाले नगरीय निकाय चुनाव में जीत के लिए भाजपा एवं कांग्रेस हर वह फॉर्मूला अपना रहे हैं, जो उन्हें जीत दिला सके। कांग्रेस ने इस चुनाव के लिए विशेष योजना तैयार की है। पार्टी इस बार निकाय चुनाव में ट्रेंड प्रोफेशनल्स की सहायता लेगी। मतलब कि निकाय चुनाव की बारीकियों एवं गड़बड़ियों पर नजर रखने के लिए ट्रेंड प्रोफेशनल्स बूथ पर तैनात होंगे। कांग्रेस पार्टी ने प्रत्येक बूथ पर 3 ट्रेंड प्रोफेशनल्स की ड्यूटी लगाई है। अगर बूथ पर किसी प्रकार की गड़बड़ी होती है तो ये प्रोफेशनल्स सीधे भोपाल को अपनी रिपोर्ट देंगे तथा इसकी खबर कांग्रेस कमेटी के कंट्रोल रूम में आ जाएगी।

वही इसके आधार पर भोपाल में कांग्रेस के नेता संज्ञान लेकर अगला कदम उठाएंगे। इसके लिए कमलनाथ के निवास पर एक कंट्रोल रूम बनाया गया है। इसमें बड़े टेलीविज़न स्क्रीन लगाए गए हैं, जिस पर हर पल के मतदान पर कांग्रेस के नेता नजर रखेंगे। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सुरेश पचौरी ने कहा कि यह आईटी युग है। इसका सही उपयोग करने में कोई आपत्ति नहीं है। दूसरे सियासी दल भी ट्रेंड प्रोफेशनल्स की सहायता लेते हैं। नगरीय निकाय चुनाव में योजना बनाने एवं प्रचार का नेतृत्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ कर रहे हैं।

वही चुनाव के दिन कांग्रेस के ट्रेंड प्रोफेशनल्स की सहायता लेने पर भाजपा ने हमला बोला है। भाजपा प्रवक्ता दुर्गेश केसवानी ने कहा है कि इससे स्पष्ट हो गया है कि कांग्रेस के पास कार्यकर्ता नहीं बचे हैं। इसी कारण उसे ट्रेंड प्रोफेशनल्स की सहायता लेनी पड़ रही है। भाजपा के पास 65 हजार बूथ पर 10- 10 लोग तैनात हैं, किन्तु कांग्रेस की स्थिति बताती है कि कांग्रेस के पास बूथ स्तर पर भरोसेमंद कार्यकर्ता ही नहीं बचे हैं। गौरतलब है कि राज्य में प्रथम चरण का चुनावी शोर थम गया है। 6 जुलाई को चुनाव होना है। अगले चरण में 13 जुलाई को मतदान होगा। कांग्रेस का प्रयास है कि इन दोनों चरणों के मतदान पर नजर रखी जाए। कांग्रेस इस बार किसी प्रकार की लापरवाही के लिए तैयार नहीं है। इसलिए इस चुनाव में ट्रेंड प्रोफेशनल्स की सहायता ली जा रही है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -