जेएनयू विवाद को लेकर भाजपा चलाएगी जन स्वाभिमान अभियान

Feb 17 2016 08:22 PM
जेएनयू विवाद को लेकर भाजपा चलाएगी जन स्वाभिमान अभियान

नई दिल्ली: दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में देशविरोधी नारेबाजी होने का मामला गहरा गया है। इस मामले में राजनीतिक दलों द्वारा अपने - अपने तरीके से विरोध की राजनीति की जा रही है। इन पार्टियों पर राजनीति करने का आरोप भी लगाया जा रहा है। इसके इतर भारतीय जनता पार्टी विपक्ष द्वारा लगाए गए आरोपों को लेकर जन स्वाभिमान अभियान प्रारंभ करने जा रही है। इस अभियान में पाकिस्तानी अमेरिकी आतंकी डेविड हेडली की गवाही के मसले को सामने रखा जाएगा।

इसे भाजपा राष्ट्रवाद के विषय पर पुरजोर तरीके से सामने रखेगी। भाजपा गुरूवार से तीन दिवसीय जन स्वाभिमान अभियान प्रारंभ करने जा रही है। हालांकि इस अभियान का संसद के बजट सत्र पर असर नहीं होगा लेकिन भाजपा इस अभियान के माध्यम से केंद्रीय विश्वविद्यालयों में देशद्रोही गतिविधियां होने और इसमें शामिल होने वाले लोगों के विरूद्ध कार्रवाई किए जाने की बात को लेकर लोगों के बीच राय कायम करेगी।

इसके अंतर्गत पार्टी राष्ट्रवाद के विषय पर भी ध्यान देगी। भाजपा की बातों में सियाचिन में सैनिकों के बलिदान की बातें होंगी तो मुंबई में 26/11 को हुए आतंकी हमले के मामले में गवाह बने डेविड हेडली की गवाही से कांग्रेस को घेरने का प्रयास भी किया जाएगा। जिसमें इशरत जहां के आत्मघाती आतंकी होने की बात का उल्लेख किया गया था। माना जा रहा है कि इस अभियान से भाजपा अपनी साख को बचाएगी तो अपने जनाधार को बनाकर रखने का प्रयास करेगी।