तूफ़ान प्रभावित इलाकों का दौरा करने जा रहे थे दिलीप घोष, बंगाल पुलिस ने लौटाया वापस

May 23 2020 03:43 PM
तूफ़ान प्रभावित इलाकों का दौरा करने जा रहे थे दिलीप घोष, बंगाल पुलिस ने लौटाया वापस

 

कोलकाता: पश्चिम बंगाल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) इकाई के अध्यक्ष दिलीप घोष को पुलिस ने 24 परगना जिले में अम्फान प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने से रोक दिया. दिलीप घोष तूफान प्रभावित इलाकों में जाकर वहां के हालत जानना चाहते थे. पुलिस ने लॉकडाउन पास न होने के कारण कथित तौर उन्हें रोक दिया.

घोष ने कहा कि, 'पुलिस ने मुझे यह कहते हुए दौरा नहीं करने दी कि मेरे पास 'लॉकडाउन पास' नहीं है. मैं 24 परगना जिले के प्रभावित इलाकों को देखना चाहता था. सीएम ममता बनर्जी और उनके मंत्री कहीं भी यात्रा कर सकते हैं, किन्तु भाजपा के नेता नहीं.' दिलीप घोष ने कहा है कि, 'वे भाजपा को हर सूरत में रोकना चाहते हैं. लोगों को राहत नहीं मिल रही है. न लोगों तक अच्छा पानी पहुंच रहा है, न ही उन्हें  बिजली मिल रही है. हमें उन तक जाने से रोका जा रहा है.'

समचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार, दिलीप घोष ने कहा कि यदि राज्य सरकार हमें रोकने का प्रयास करेगी तो उसे जवाब दिया जाएगा. दिलीप घोष के साथ जा रहे अन्य भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ पुलिस की झड़प भी हुई. उन्होंने धक्का देकर रास्ता साफ कराने का प्रयास किया. यह तब हुआ है जब शुक्रवार को पीएम नरेंद्र मोदी और ममता बनर्जी ने साथ दौरा किया था. 

इस राज्य में ब्रांड बन चुका है कोरोना

इस स्थान पर ट्रांसजेंडर समुदाय के लिए बनाए गए खास क्वारंटाइन सेंटर

यहां पर 15 जून से खुलने वाले है स्कूल, सरकार ने लिया बड़ा फैसला