पश्चिम बंगाल को पश्चिमी बांग्लादेश बनाना चाहती है ममता बनर्जी- भाजपा

पश्चिम बंगाल को पश्चिमी बांग्लादेश बनाना चाहती है ममता बनर्जी- भाजपा

कोलकाता: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वाकांक्षी योजना आयुष्मान भारत से पश्चिम बंगाल को अलग रखने की सीएम ममता बनर्जी ने घोषणा की है. इस को लेकर शुक्रवार को प्रदेश भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष दिलीप घोष ने तल्ख़ टिप्पणी करते हुए कहा है कि, दरअसल ममता पश्चिम बंगाल को अलग देश बनाने की कोशिशों में लगी हुई है.

सपा-बसपा को कांग्रेस की चेतावनी, कहा हमारी अनदेखी करना होगी खतरनाक भूल

उन्होंने ममता सरकार पर आरोप लगते हुए कहा है कि भारत सरकार की हर परियोजना से राज्य से अलग कर ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल को पश्चिमी बांग्लादेश बनाने में लगी हुई हैं. उन्होंने कहा है कि ममता बनर्जी को देश या राज्य के विकास से कोई मतलब नहीं है. उन्हें केवल अपने राजनीतिक स्वार्थ से मतलब है. दिलीप घोष ने कहा है कि पश्चिम बंगाल में सड़क से शौचालय तक और राजमार्ग से लेकर हफ्ता वसूली तक हर जगह ममता बनर्जी के पोस्टर लगे हैं. पीएम मोदी की स्वच्छ भारत परियोजना को ममता बनर्जी ने निर्मल बांग्ला का नाम दिया है और हर स्थान पर बनने वाले शौचालय के दरवाजे पर अपनी तस्वीरें लगवा दी हैं.

एके एंटनी को अपनी ही पार्टी पर नहीं है भरोसा, कहा भाजपा से अकेले नहीं जीत सकती कांग्रेस

दिलीप घोष ने कहा है कि बंगाल के जिलाधिकारी प्रत्येक स्थान पर जाकर प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के बोर्ड पर ममता का नाम चिपका रहे हैं,  जनता ये सब देख रही है. राज्यभर में जो भी काम होता है वो ममता के ही इशारों पर हो रहा है. इसीलिए हफ्ता वसूली, हत्या, अपराध और हर तरह के गैरकानूनी काम करने वाले अपराधी ममता की तस्वीर लगा कर रखते हैं. विकास के काम में पीएम मोदी की तस्वीर ममता से बर्दाश्त नहीं हो रही है.

खबरें और भी:-  

 

केजरीवाल ने साधा भाजपा पर निशाना, कहा गाय के नाम पर राजनीति करने वाले उसे चारा भी नहीं देते

ममता ने भाजपा पर लगाया सीबीआई के दुरुपयोग का आरोप

गीता पर हाथ रख शपथ लेने वाली अमेरिकी हिन्दू सांसद, अब लड़ेगी US का राष्ट्रपति चुनाव