बिहार चुनाव को लेकर काम कर रहा बीजेपी का थिंक टैंक

बिहार चुनाव को लेकर काम कर रहा बीजेपी का थिंक टैंक

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी द्वारा बिहार चुनाव को लेकर जमकर तैयारियां की जा रही है। एनडीए के माध्यम से भाजपा वोटों को साधने मे चली है यही नहीं भाजपा अप्रत्यक्षरूप से जोड़तोड़ करने में लगी है तो दूसरी ओर जनता परिवार भी अपने साथ कुछ दलों को मिलाने में प्रयासरत है। मिली जानकारी के अनुसार भाजपा के थिंक टैंक द्वारा नई रणनीति पर कार्य किया जा रहा है। जिसमें बिहार के लिए भाजपा उपाध्यक्ष विनय सहस्त्रबुद्धे की अध्यक्षता में निर्णय किए जा रहे हैं।

भाजपा और जेडीयू के अलगाव का बिहार के शासन और राज्य की जनता के जीवन पर नकारात्मक असर पड़ रहा है। मामले में यह कहा गया है कि जब जेडीयू ने भाजपा से गठबंधन तोड़ा तो विकास प्रभावित हुआ। राज्य की आर्थिक विकास दर बहुत नीचे गिर गई। यही नहीं भाजपा की चुनाव प्रचार समिति के प्रमुख के तौर पर नरेंद्र मोदी का कद लोकसभा चुनाव के पहले ही बढ़ गया था और फिर नीतीश ने एनडीए से किनारा कर लिया था, 

लेकिन यदि नीतीश एनडीए के साथ होते तो शायद बिहार के विकास के लिए बेहतर बात होती। यह भी कहा जा रहा है कि जनता के बीच भााजपा शासित प्रदेशों के विकास की तस्वीर पेश की जाएगी। जिससे अन्य लोगों को इस बात का पता लग सके कि आखिर भाजपा के शासन काल में विकास किस तरह से किया गया है।