स्वामी रामभद्राचार्य की शरण में पहुंचे अमित शाह

भोपाल/चित्रकूट : बिहार चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को मिली करारी हार के बाद भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पहली बार चित्रकूट में सार्वजनिक रूप से नजर आए. यहाँ उन्होने एक अस्पताल का उद्घाटन किया. हालांकि वो इस दौरान मीडिया से बचते दिखे.

अमित शाह स्वामी रामभद्राचार्य से भी मिलने पहुंचे और दिनभर उन्ही के साथ रहे और उनका आशीर्वाद लिया. बता दें कि रामभद्राचार्य के आगे पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी से लेकर राजनाथ सिंह तक कई दिग्गज भाजपा नेता सिर झुकाते हैं.

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा है कि सक्रिय राजनीति से संन्‍यास लेने के बाद नेताओं को समाज सेवा के क्षेत्र में काम करना चाहिए. प्रख्यात समाजसेवी नानाजी देशमुख भी इसी विचारधारा के थे. उन्होंने जब राजनीति से सन्यास लिया था उस समय वह चाहते तो राष्ट्रपति भी बन सकते थे, लेकिन उन्होंने समाज सेवा के क्षेत्र में काम करने का निर्णय लिया.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -