भाजपा का लोकसभा प्लान तैयार, राजनाथ सिंह और अरुण जेटली को मिली बड़ी जिम्मेदारी

भाजपा का लोकसभा प्लान तैयार, राजनाथ सिंह और अरुण जेटली को मिली बड़ी जिम्मेदारी

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने आम चुनावों के लिए रविवार को अपने वरिष्ठ नेता राजनाथ सिंह और अरूण जेटली को क्रमश: संकल्प पत्र (घोषणापत्र) कमेटी और प्रचार शाखा की कमान सौंप दी है. दरअसल, पार्टी के राष्ट्रिय अध्यक्ष अमित शाह ने लोकसभा चुनाव की तैयारियों के लिए 17 समूहों का गठन किया है. एक बयान के अनुसार 20 सदस्यीय संकल्प पत्र समिति के सदस्यों में केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण, कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद, रेल मंत्री पीयूष गोयल, अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी तथा मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान शामिल हैं. कमेटी को पार्टी का घोषणा पत्र तैयार करने का कार्य दिया गया है. 

सोने की खान में सोना ढूंढने पहुंचे थे ग्रामीण, अचानक धंसी खदान 30 लोगों की मौत

बयान में बताया गया है कि सामाजिक एवं स्वयंसेवी संगठनों से संपर्क करने वाली कमेटी के अध्यक्ष केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी होंगे, वहीं विदेश मंत्री सुषमा स्वराज चुनाव के लिए साहित्य तैयार करने वाले समूह की अध्यक्ष होंगी. प्रसाद मीडिया समूह ली अगुवाई करेंगे, जबकि केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर बुद्धिजीवियों के साथ बैठकें आयोजित करने वाले समूहों की अध्यक्ष होंगे. देश में लोकसभा चुनाव अप्रैल-मई में हो सकते हैं.

भाजपा के नेता की मांग, योगी को हटाओ राजनाथ सिंह को मुख्यमंत्री बनाओ

आपको बता दें कि हाल ही में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने आम चुनाव 2019 की तैयारियों के मद्देनज़र 9 राज्यों के चुनाव प्रभारियों और सह-प्रभारियों की नियुक्ति कर दी है. इनमें रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण को दिल्ली और स्वस्थ्य मंत्री जेपी नड्डा को उत्तर प्रदेश की कमान दी गई है. भाजपा ने रेल मंत्री पीयूष गोयल को तमिलनाडु, पुडुचेरी और अंडमान-निकोबार में लोकसभा चुनाव का प्रभारी बनाया गया है. वहीं, इन राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में सी टी रवि सह-प्रभारी नियुक्त किए गए हैं. इससे पहले 26 दिसंबर 2018 को भाजपा ने 17 राज्यों के लिए पार्टी प्रभारियों की नियुक्ति की थी.

खबरें और भी:-  

हेराल्ड हाउस खाली करने को राजी नहीं कांग्रेस, हाईकोर्ट के फैसले को डिवीज़न बेंच में दी चुनौती

बांग्लादेश में हिन्दुओं पर अत्याचार अब भी जारी, आज मारपीट के साथ शिव मंदिर भी तोड़ा

अवैध खनन मामले पर अखिलेश ने तोड़ी चुप्पी, कहा सीबीआई की पूछताछ के लिए तैयार