'ताली-थाली' पर विपक्ष ने घेरा तो सुधांशु त्रिवेदी बोले- क्या चरखे से आज़ादी मिली थी ?

'ताली-थाली' पर विपक्ष ने घेरा तो सुधांशु त्रिवेदी बोले- क्या चरखे से आज़ादी मिली थी ?

नई दिल्ली: राज्यसभा में गुरुवार को कोरोना पर चर्चा के दौरान सांसदों में जमकर बहस हुई । विपक्ष ने जहां कोरोना को लेकर मोदी सरकार को निशाने पर लिया, तो वहीं भाजपा के सांसदों ने भी पलटवार करने का कोई मौका नहीं छोड़ा. आम आदमी पार्टी (आप) के सांसद संजय सिंह ने कहा कि ताली-थाली बजाने से अगर कोरोना ख़त्म हुआ हो, तो मैं पीएम के साथ ताली-थाली बजाने के लिए राजी हूं. इसपर भाजपा नेता सुधांशु त्रिवेदी ने करारा पलटवार किया. उन्होंने संजय सिंह से सावल किया कि क्या चरखा चलाने से आजादी मिली थी. चरखा चलाना एक प्रतीक था. बिल्कुल उसी तरह ताली-थाली बजाना एक प्रतीक था. 

भाजपा सांसद सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि कोरोना महामारी अब तक की सबसे बड़ी आपदा है. जो लोग कह रहे हैं कि क्या ताली-थाली बजाने से कोरोना नष्ट हो जाएगा. मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि क्या चरखा चलाने से देश आजाद हुआ था. चरखा चलाना एक प्रतीक था. ठीक उसी प्रकार ताली-थाली बजाना एक प्रतीक था, जिसके माध्यम से कोरोना से जंग में जुटे लोगों का मनोबल बढ़ाने का प्रयास किया गया है. सुधांशु ने कहा कि दिल्ली सरकार ने लॉकडाउन के दौरान दावा किया था कि दिल्ली में 70 लाख लोगों के लिए भोजन तैयार किया जा रहा है. आखिर वो खाना कहां बनता था कि हम लोगों को नज़र ही नहीं आ रहा था. 

इससे पहले संजय सिंह ने केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा. संजय सिंह ने कहा कि सदन में कल से कोरोना पर चर्चा हो रही है, किन्तु सत्ता पक्ष के लोग केवल आरोप-प्रत्यारोप कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि सत्ता पक्ष के लोग कह रहे हैं कि विपक्ष ने ताली-थाली बजाने में सरकार का समर्थन नहीं किया. मैं कहना चाहता हूं कि एक भी ऐसा अध्ययन बता दीजिए जिसमें ताली-थाली बजाने से कोरोना ठीक हुआ हो, तो मैं पीएम के साथ ताली-थाली बजाने के लिए राजी हूं. संजय सिंह ने कोरोना पर चर्चा के दौरान यूपी सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि यूपी में कोरोना किट के नाम पर घोटाला किया गया.

संजय राउत का भाजपा पर तंज- ...तो क्या 'भाभीजी के पापड़' खाकर ठीक हो रहे हैं कोरोना मरीज ?

बाबरी विध्वंस मामला: अंसारी ने की सभी आरोपियों को बरी करने की अपील, 30 सितम्बर को आने वाला है फैसला

कोरोना काल के बीच संसद का मानसून सत्र, मनमोहन-चिदंबरम सहित कई सांसदों ने ली छुट्टी