राधामोहन दास को मिल सकता है योगी के लिए सीट छोड़ने का ऐलान, राजयसभा भेज सकती है भाजपा

लखनऊ: उत्तर प्रदेश कोटे की 11 राज्यसभा सीटों के लिए 10 जून को मतदान होने वाला है। इन 11 में से आठ सीटें भाजपा के झोली में आना तय मानी जा रही है। इन सीटों के लिए भाजपा उम्मीदवारों का ऐलान शनिवार को हो सकता है। राज्यसभा चुनाव के लिए नामांकन 31 मई तक होने हैं। कुछ चेहरे रिपीट होने के साथ ही आरपीएन सिंह, राधामोहन दास अग्रवाल, लक्ष्मीकांत वाजपेयी, बाबूराम निषाद समेत कई नामों को उच्च सदन भेजे जाने की चर्चा हो रही है।

राज्यसभा की रिक्त होने वाली 11 सीटों में से पिछली बार भाजपा की पांच सपा की तीन, बसपा की दो और कांग्रेस की एक सीट थी। इस बार सियासी परिस्थितियां बदली हुई हैं। संख्या बल भाजपा और सपा के ही पास है। सपा पहले ही तीन उम्मीदवार उतारने की घोषणा कर चुकी है। ऐसे में आठ सीटें भाजपा के खाते में जाना लगभग पक्का माना जा रहा है। मौजूदा सदस्यों में से सुरेंद्र नागर और जफर इस्लाम को फिर भेजे जाने का अनुमान है। सुरेंद्र नागर गुर्जर समाज से आते हैं और कैबिनेट में इस समाज से सोमेंद्र तोमर के रूप में केवल एक राज्यमंत्री है। वहीं ब्राह्मण कोटे से लक्ष्मीकांत वाजपेयी के अलावा डा. दिनेश शर्मा और पूर्व विधानसभा अध्यक्ष हृदयनारायण दीक्षित के नाम भी सुर्ख़ियों में रहे। 

इसके अलावा विधानसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस छोड़ भाजपा में आने वाले पूर्व केंद्रीय मंत्री आरपीएन सिंह को पार्टी उच्च सदन में भेज सकती है। बता दें कि सीएम योगी के लिए गोरखपुर सदर सीट छोड़ने वाले राधामोहन दास अग्रवाल को भी राज्यसभा भेजकर इनाम दिया जा सकता है। कुंवर मानवेंद्र और संजय सिंह में से किसी एक को भेजे जाने की अटकलें चल रहीं हैं। वहीं विधान परिषद के लिए भी पार्टी जल्द अपने उम्मीदवार घोषित करेगी।

उत्तराखंड आए योगी, CM धामी बोले- 'अब महाराज के बुल्डोजर का असर उत्तराखंड में भी होगा'

पंजाब की भगवंत मान सरकार ने 424 VIP लोगों की सुरक्षा हटाई, सूची में नेता से लेकर धर्मगुरु तक शामिल

यूपी भाजपा को आज मिल सकता है नया अध्यक्ष, BJP कार्यसमिति की बैठक

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -