झाबुआ ब्लास्ट के बाद बीजेपी नए सिरे से चुनावी रणनीति बना रही

भोपाल। मध्यप्रदेश झाबुआ के पेटलावद में हुए धमाके के बाद से ही भारतीय जनता पार्टी ने नए सिरे से अपनी चुनावी रणनीति को तैयार कर रही है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक भाजपा पार्टी की चुनावी प्रबंधन टीम रतलाम-झाबुआ लोकसभा, मैहर एवं देवास विधानसभा उपचुनाव को लेकर काफी सक्रिय है व एक रिपोर्ट के मुताबिक पार्टी ने रतलाम-झाबुआ को चुनौतीपूर्ण एवं देवास को एकतरफा बीजेपी के पक्ष में बताया है व पार्टी ने मैहर सीट को लेकर चिंता जताई है. सत्ता एवं संगठन ने मौजूदा स्थिति का आकलन किया तो बीजेपी की स्थिति रतलाम में तो ठीक है लेकिन संसदीय क्षेत्र के सभी विधानसभाओं में पार्टी को झाबुआ जिला चुनौतीपूर्ण नजर आ रहा है. गौरतलब है की पेटलावद हादसे के बाद सत्ता-संगठन के आपदा प्रबंधन सिस्टम ने तुरंत मोर्चा संभाला। 

इस बात का ध्यान रखा गया कि घटना का राजनीतिक लाभ विरोधी दल न ले पाएं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लगातार दो दिन तक गांव-गांव का दौरा कर हादसे के पीड़ितों से भावनात्मक स्तर पर स्वयं को जोड़ने में सफल रहे। व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस झाबुआ के इस हादसे से पहले भी पार्टी की मजबूत स्थिति के लिए पूरे संसदीय क्षेत्र में हर विधानसभा क्षेत्र का दौरा कर चुके हैं. व भारतीय जनता पार्टी ने अपने एक फार्मूले के तहत योजना बनाई है की अब हर विधानसभा में वरिष्ठ मंत्रियों और पार्टी पदाधिकारियों की ड्यूटी लगाई जाएगी व यही फार्मूला मैहर और देवास में भी दोहराया जाएगा. व तेंदुखेड़ा उपचुनाव की तर्ज पर बीजेपी मैहर की राजनीतिक गोटियां बिछाने की योजना बना रही है। क्योँकि बीजेपी के लिए मैहर के राजनीतिक समीकरण फिलहाल चुनौतीपूर्ण हैं। 

 
 

- Sponsored Advert -

Most Popular

मुख्य समाचार

- Sponsored Advert -