महागठबंधन की बैठक पर भाजपा का वार, कहा 'लालू के सामने दंडवत होने वाले अब उठाएंगे तेजस्वी का झोला'

महागठबंधन की बैठक पर भाजपा का वार, कहा 'लालू के सामने दंडवत होने वाले अब उठाएंगे तेजस्वी का झोला'

पटना : राष्ट्रीय जनता दल (राजद) सुप्रीमो और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के छोटे बेटे तेजस्वी यादव के आवास पर आज महागठबंधन के दलों की बैठक होने वाली है. अनुमान लगाए जा रहे हैं कि इस बैठक में सीट बंटवारे को अंतिम रूप दे दिया जाएगा. इस बैठक को लेकर बिहार की सियासत गरमा गई है. इसी के चलते भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और जनता दल यूनाइटेड (जदयू) ने महागठबंधन के नेताओं पर तंज कसा है.

एशियन कप फुटबॉल टूर्नामेंट: भारत ने अपने पहले ही मैच में थाईलैंड को 4-1 से हराया

भाजपा नेता निखिल आनंद ने बैठक के बहाने गठबंधन के बड़े चेहरे जैसे, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, एनसीपी अध्यक्ष शरद यादव, रालोसपा अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा पर ताना मारा है. उन्होंने कहा है कि ये बड़े नेता बिहार के पूर्व उप- मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव का झोला उठाकर चलें. उन्होंने कहा है कि वैसे ये बारे नाम वाले नेता पहले भी चारा घोटाले के आरोपों में होटरवार जेल में बंद लालू यादव के सामने माथा टेक चुके हैं. निखिल आनंद ने कहा है कि महागठबंधन में जिस तरफ से मारामारी चल रही है, ऐसे में एक ही सीट पर दो-दो उम्मीदवार चुनाव लड़ेंगे.

जेट एयरवेज को जल्द मिल सकती एसबीआई से वित्तीय सहायता

महागठबंधन की बैठक पर जदयू नेता श्याम रजक ने कहा है कि यह बैठक एनडीए के लिए किसी चिंता का कारण नहीं है. उन्होंने दावा किया है कि बिहार सीएम नीतीश कुमार अपने काम के कारण जनता के दिलों में बसे हुए हैं. श्याम रजक ने बिहार की सभी 40 लोकसभा सीटों पर एनडीए की जीत का दावा भी किया है. आपको बता दें कि आज तेजस्वी यादव के घर महागठबंधन के सभी दलों के नेता इकट्ठे होकर चर्चा करने वाले हैं, ऐसे में राजनितिक पारा चढ़ना तो स्वाभाविक ही है. हालाँकि अब ये देखना दिलचस्प होगा कि इस बैठक में क्या निष्कर्ष निकलता है.

 खबरें और भी:-  

उत्तराखंड में शुरू हुआ पतंजलि का पहला परिधान शोरूम

देश के वित्तीय और पूंजी बाजार को साइबर अटैक से बचाएगा यह सॉफ्टवेयर

30 हजार रु से अधिक सैलरी, योग्यता महज ग्रेजुएट