BJP निगम कर्मचारियों को हड़ताल न खत्म करने का दबाव बना रही है

BJP निगम कर्मचारियों को हड़ताल न खत्म करने का दबाव बना रही है

नई दिल्ली : जब लाख जुगतों के बाद भी दिल्ली के एमसीडी कर्मचारी हड़ताल खत्म करने को राजी नहीं हुए तो आखिरकार दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीटर बम फोड़ ही डाला। केजरीवाल ने बीजेपी पर आरोप लगाया है कि बीजेपी कर्मचारियों को हड़ताल न खत्म करने के लिए दबाव बना रही है। इस बीच राहत की खबर ये है कि एमसीडी के डॉक्टरों ने हड़ताल खत्म कर दी है।

केजरीवाल का कहना है कि एमसीडी यूनियन के नेताओं ने उन्हें गुप्त रुप से जानकारी दी है कि बीजेपी उन पर हड़ताल वापस नहीं लेने का दबाव बना रही है। यह बेहद शर्मनाक है। हड़ताल के कारण दिल्ली में कूड़-करकट का भरममार लगा हुआ है। जानकारी के अनुसार निगम कर्मचारियों को लगभग 1000 करोड़ रुपए वेतन के रुप में बकाया है।

दिल्ली सरकार निगमों को 693 करोड़ रुपए पहले ही दे चुकी है। ऐसे में उप राज्यपाल ने 300 करोड़ रुपए लोन देने की पेशकश की है, ताकि 1000 करोड़ का आंकड़ा पूरा हो। कहा जा रहा है कि यह राशि 31 मार्च तक दे दिया जाएगा। उपराज्यपाल ने इस बात का भी भरोसा दिया कि वो सरकार से चौथे वित आयोग की सिफारिशें लागू करने के लिए बात करेंगे।

दूसरी ओर शुक्रवार को दिल्ली हाइ कोर्ट ने कर्मचारियों को जमकर लताड़ा। कोर्ट ने एमसीडी से कहा कि इस मामले में अब तक क्यों सोते रहे? आपको पता है कि ये कितना गंभीर मामला है। आप इस पर पूरी तरह से सक्रिय क्यों नहीं है? आपने अब तक कर्मचारियों से क्यों नहीं बात कि की जनवरी तक की सैलेरी मिलने के बाद भी वो अब तक क्यों हड़ताल पर हैं?

उनकी दिक्कतें क्या हैं। हमे पूरा जवाब चाहिए। आप कर्मचारियों से बात करके आइए कि वो हड़ताल कब खत्म कर रहे हैं। दिल्ली सरकार और नगर निगम के बीच जनता पीस रही है। शहर में ऐसे हालात की इजाजत कोर्ट कभी नहीं देगा।