लोकतंत्र बचाओ रैली में वाड्रा की तस्वीर, कही रॉबर्ट का राजनीति में पदार्पण तो नहीं?

नई दिल्ली : कांग्रेस निकली तो थी बीजेपी के खिलाफ हल्ला बोलने लेकिन अब वो अपने ही भंवर में फंसती दिख रही है। लोकतंत्र बचाओ रैली से जुड़े पोस्टर में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा की तस्वीर ने विपक्ष को निशाने पर ले लिया है।

इस पोस्टर पर वाड्रा की तस्वीर सामने आने के बाद केंद्रीय कौशल विकास मंत्री राजीव प्रताप रुडी ने आपत्ति जताई है। उन्होने कहा कि लोकतंत्र बचाओ का नारा सोनिया गांधी और राहुल गांधी द्वारा दिया गया था, लेकिन पोस्टर में वाड्रा भी नजर आ रहे है।

रुडी ने तंज कसते हुए कांग्रेस को लोकतंत्र बचाओ नहीं बल्कि कांग्रेस से लोकतंत्र को बचाओ का नारा देना चाहिए। आगे रुडी ने कहा कि मोदी सरकार सभी मोर्चो पर आगे है। देश को पहली बार ऐसा पीएम मिला है, जो केवल बोलता ही नहीं बल्कि काम भी करता है।

वहीं बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि कांग्रेस इस मार्च को लोकतंत्र मार्च बता रही है लेकिन इस मार्च को राजवंश मार्च बुलाया जाना चाहिए। क्या इस मार्च से राबर्ट वाड्रा का राजनीति में आगमन हुआ है। होर्डिंग में बहुत जगह राबर्ट वाड्रा को देखा जा सकता है।

अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले में नाम आने के बाद से कांग्रेस इस मुद्दे से भागना चाहती है। पात्रा ने कहा कि आज सोनिया गांधी ने सत्ता के लालच की बात कही, जिनकी पार्टी ने सत्ता में रहते हुए खुद आपातकाल लगाने के आदेश दिए थे। इनसे बर्दाश्त नहीं होता कि कैसे एक गरीब चायवाला पीएम बन गया।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -