ओसामा बिन लादेन था इस सिंगर का दीवाना

20 मार्च 1966 को जन्म लेने वाली अलका याग्निक की रगों में संगीत दौड़ता है. बहुत ही कम उम्र में वह संगीत से जुड़ गई थी. बता दें कि उनकी माँ शुभा याग्निक भी एक क्लासिकल सिंगर थी, जिन्होंने अपनी बेटी को सफलता की ऊंचाई पर पहुंचाने में एक अहम भूमिका निभाई. अलका याग्निक ने केवल 6 साल की उम्र से ही ऑल इंडिया रेडियो में बतौर भजन गायक काम करना शुरू कर दिया था. इस दौरान उनकी संगीत की प्रतिभा धीरे-धीरे निखरती चली गई.

अलका केवल 10 साल की थी, जब उनकी माँ उन्हें मुंबई लेकर आ गई थी. महज 14 साल की उम्र में अलका ने अपना पहला प्लेबैक गाना गाया. यह गाना साल 1980 में आई फिल्म 'पायल की झंकार से' था. लेकिन ये सिर्फ शुरुआत थी, सफलता का असली मज़ा उन्होंने माधुरी दीक्षित अभिनीत गाने 'एक दो तीन...' से चक्खा. इस गाने ने माधुरी के साथ-साथ उन्हें भी रातों-रात एक स्टार बना दिया था. इसी गाने के लिए अलका को अपनी लाइफ का पहला फिल्मफेयर अवॉर्ड मिला था.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अलका ने अपने करियर में करीब 2400 फिल्मों में 1100 से भी ज्यादा गानों को अपने सुरों में पिरोया है. लता मंगेश्कर, आशा भोंसले, मोहम्मद रफी और किशोर कुमार जैसे दिग्गज गायकों के बाद अलका याग्निक का स्थान पांचवे पायदान पर आता है. अलका जी से जुड़ी एक रोचक बात यह भी है कि दुनिया का सबसे खूंखार दहशतगर्द आतंकवादी ओसामा बिन लादेन का जब एनकाउंटर किया गया, तब वहां मौजूद चीज़ों में अलका याग्निक के हज़ारों गानों की रिकॉर्डिंग मिली थी.

बॉलीवुड और हॉलीवुड से जुडी चटपटी और मज़ेदार खबरे, फ़िल्मी स्टार की जिन्दगी से जुडी बातें, आपकी पसंदीदा सेलेब्रिटी की फ़ोटो, विडियो और खबरे पढ़े न्यूज़ ट्रैक पर

आखिर सामने आई श्रिया सरन की शादी की तस्वीरें

ये हैं बॉलीवुड की सबसे खूबसूरत और हॉट सास-बहुएं

शूटिंग के दौरान हुआ आलिया भट्ट का एक्सीडेंट, कंधे पर आई गंभीर चोट

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -