टी सीरीज के मालिक बनने से पहले जूस की दुकान में काम करते थे गुलशन कुमार, फिर इस तरह चमकी किस्मत

जाने माने मशहूर गायक तथा टी सीरीज कंपनी की स्थापना करने वाले गुलशन कुमार की आज बर्थ एनिवर्सरी है। टी सीरीज का नाम देश के प्रत्येक घर में पहुंचाने वाले गुलशन कुमार ने बहुत संघर्ष किया था। किन्तु क्या आप जानते हैं कि इस बड़ी कंपनी को खड़ा करने से पहले गुलशन अपने पिता के साथ जूस की दुकान में काम करते थे। गुलशन इस काम से प्रसन्न नहीं थे, उन्हें तो कुछ और करना था। तत्पश्चात, गुलशन के पिता ने एक और दुकान खोल ली तथा यहां दोनों सस्ती कैसेट्स विक्रय करते थे।

इसके पश्चात् गुलशन ने अपनी कंपनी खोली तथा भक्ती भरे गानों को बनाने लगे। गुलशन ने अपनी आवाज तथा गानों से फैंस का दिल जीत लिया। गुलशन के कई भक्ति गीत ऐसे भी हैं जो आज भी सभी के दिलों में बसे हैं। गुलशन ने अपने टी सीरीज ब्रांड के माध्यम से कई लोगों का इंडस्ट्री में डेब्यू कराया। म्यूजिक जगत में अपना बड़ा नाम बनाने के पश्चात् गुलशन ने फिर फिल्मों की ओर अपना रुख लिया।

गुलशन ने फिर वर्ष 1989 में फिल्म लाल दुपट्टा कमाल का से बतौर प्रोड्यूसर अपने करियर का आरम्भ किया। इसके पश्चात् उन्होंने कई फिल्मों को प्रोड्यूस किया था जिसमें सुपरहिट फिल्म आशिकी भी सम्मिलित है। इनके अतिरिक्त गुलशन ने फिल्म बेवफा सनम को निर्देशित किया था। गुलशन ने वैष्णो देवी मंदिर में भंडारे का आरम्भ किया था जहां मंदिर में आए भक्तों को बिना पैसों के भोजन दिया जाता था। गुलशन चाहते थे कि कोई भी मां के दर्शन करने आए वो खाली पेट ना जाए। आज भी गुलशन कुमार द्वारा आरम्भ किया गया भंडारा चलता है।

कंगना रनौत को ट्विटर ने दी ठोकर, तो देसी एप Koo ने अभिनेत्री का कुछ इस तरह किया स्वागत

साउथ के बाद अब बॉलीवुड में धूम मचाएगी ‘दृश्यम 2’, क्या फिर से चलेगा अजय देवगन का जादू?

आशुतोष राणा के बयान पर बोले यूजर्स- यूजर ने लिखा- "उम्मीदों से जिंदा हैं उम्मीदों ने मारा भी..."

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -