2 साल पहले मंदिर से चोरी हुईं थी करोड़ों की मूर्तियां, अब वापस रख गए चोर

Jun 10 2021 10:26 AM
2 साल पहले मंदिर से चोरी हुईं थी करोड़ों की मूर्तियां, अब वापस रख गए चोर

पटना: बिहार के छपरा जिले में लगभग 2 वर्ष पूर्व एक मंदिर से मूर्तियां चोरी हुई थी. किन्तु अब उन्हीं कीमती मूर्तियों को कोई फिर से मंदिर परिसर में रखकर चला गया है. कोई इसे चोरों का ह्रदय परिवर्तन होना बता रहा है, तो कोई इसे भगवान की कृपा कह रहा है. वहीं पुलिस का कहना है कि उसकी सख्ती की वजह से ही मूर्तियों की बरामदगी हुई है. हालांकि, अभी एक मूर्ति का पता चलना शेष है. 

ये मामला छपरा के मांझी थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले फतेहपुर सरैया गांव का है. जहां तक़रीबन 20 माह पहले राम जानकी मठ से अज्ञात चोरों के द्वारा मूल्यवान अष्टधातु की तीन प्रतिमाओं की चोरी की गई थीं. इन्हीं चोरी की गई 3 मूर्तियों में से 2 को अज्ञात द्वारा मंदिर परिसर की दीवार के पास रख दिया गया. बताया जा रहा है कि प्रतिमा रखने के दौरान आवाज सुनने के बाद मंदिर के पुजारी ने बाहर निकल कर देखा तो एक झोले में जींस पैंट से लपेटकर श्रीराम और जानकी की मूर्ति रखी हुई थी. मूर्ति के पास कोई व्यक्ति नहीं था. हालांकि लक्ष्मण जी की प्रतिमा की बरामदगी पुलिस के लिए बड़ी चुनौती बनी हुई है.

वर्ष 2012 में राम जानकी मंदिर परिसर से चोरों ने मठ के तत्कानील पुजारी को बंधक बनाकर तीनो प्रतिमाएं चोरी कर ली थीं. कई महीनों के बाद बिहार और उत्तर प्रदेश की पुलिस ने खंडित अवस्था मे प्रतिमा को बरामद किया था. दूसरी बार 2019 के अक्टूबर महीने में तीनों मूर्तियों को अज्ञात चोरों के द्वारा पुनः चोरी कर लिया गया. फिलहाल मूर्तियों की बरामदगी के बाद पुलिस ने डॉग स्क्वायड की टीम को बुलाकर मामले की बारीकी से छानबीन की. मूर्ति चोरों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस दबिश दे रही है. तीन मूर्तियों की कीमत करोड़ों रुपये बताई जा रही है. हालांकि, इनमें 2 मिल गई हैं. 

मई में 10000 करोड़ रुपये पर पहुंचा इक्विटी म्यूचुअल फंड का शुद्ध प्रवाह का रिकॉर्ड

अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 8 पैसे की गिरावट पर बंद हुआ रुपया

334 अंक गिरा सेंसेक्स, 15650 के नीचे बंद हुआ निफ़्टी