दूधिया लाइट से जगमगा उठेंगे बिहार के गांव, जानिए क्या है सरकार की योजना?

पटना: बिहार के गांव भी अब पूर्ण रूप से दूधिया प्रकाश में जगमगा उठेंगे। सभी पंचायत में सोलर लाइट लगाए जाने की रणनीति है। सीएम नीतीश कुमार ने बताया कि सोलर स्ट्रीट लाइट लगाने के लिए स्थानों के चयन को लेकर सर्वे ठीक से कर लें। सभी स्थानों का चयन एक ही साथ कर लें। सोलर स्ट्रीट लाइट को लगाए जाने की प्रक्रिया में स्थल चयन इस तरह हो कि कोई इस योजना से वंचित न रहे।

वही गुरुवार को सीएम नीतीश कुमार के समक्ष एक अणे मार्ग स्थित संकल्प में पंचायती राज विभाग द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ‘मुख्यमंत्री ग्रामीण सोलर स्ट्रीट लाइट योजना’ से जुड़ा प्रस्तुतीकरण दिया गया। पंचायती राज विभाग के अपर मुख्य सचिव अमृत लाल मीणा ने प्रस्तुतीकरण के द्वारा ‘मुख्यमंत्री ग्रामीण सोलर स्ट्रीट लाइट योजना’ से जुड़ी विस्तृत खबर दी। उन्होंने इसके उद्देश्य, अधिष्ठापन हेतु स्थलों का चयन, रखरखाव, वित्तीय प्रबंधन आदि के सिलसिले में खबर दी। अपर मुख्य सचिव ने 15वें वित्त आयोग की अनुशंसा के कार्यान्वयन के सिलसिले में भी जानकारी दी।

साथ ही इस के चलते सीएम ने बताया कि हर पंचायत में सोलर स्ट्रीट लाइट लगाए जाने को लेकर रणनीति बनाई गई है। प्रशासन पंचायत भवन के दोनों इंट्री प्वाइंट, अस्पतालों समेत अन्य आवश्यक स्थानों को ध्यान में रखते हुए स्थलों का चयन करें। उन्होंने बताया कि हमलोगों का लक्ष्य केवल सोलर स्ट्रीट लाइट लगाना ही नहीं है बल्कि उसका उचित प्रकार से रखरखाव भी करना है।

तालिबान-सरकार की वार्ता पर बोले ओवैसी- पर्दे से झांक-झांक कर मोहब्बत क्यों कर हो ?

TMC विधायक मुकुल रॉय की तबियत बिगड़ी, कोलकाता के अस्पताल में हुए भर्ती

'लालू-राबड़ी के राज में अफगानिस्तान जैसा बन गया था बिहार...', सुशील मोदी का राजद पर वार

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -